29 अप्रैल को है विनायकी चतुर्थी व्रत !! विनायकी चतुर्थी व्रत पर करें करें ये 11 उपाय में से कोई भी एक खुल जाएगा किस्मत का ताला !!

विनायकी चतुर्थी पर करें करें ये 11 उपाय में से कोई भी एक खुल जाएगा किस्मत का ताला !!

भगवान गणेश सभी दु:खों को दूर करने वाले हैं। प्रसन्न होने पर श्रीगणेश भक्तों की सभी मन्नतें पूरी करते हैं।  इस दिन अगर कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो हर मनोकामना पूरी हो सकती है। अलग-अलग कामनाओं को पूरा करने के लिए भगवान गणेश भगवान की अलग-अलग तरह से पूजा की जाती है। विवाह और धन कामना हर व्यक्ति के लिए अहम होती है। यहां बताए जा रहे है गणेश पूजा के दौरान किए जाने वाले बहुत सरल उपाय जिनसे आपकी कामना भी उतनी ही आसानी से पूरी हो जाएगी।

विनायकी चतुर्थी पर करें करें ये 11 उपाय में से कोई भी एक खुल जाएगा किस्मत का ताला !!
विनायकी चतुर्थी पर करें करें ये 11 उपाय में से कोई भी एक खुल जाएगा किस्मत का ताला !!

शास्त्रों में भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने का विधान बताया गया है। तिल चतुर्थी पर भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने से विशेष लाभ होता है। इस दिन आप शुद्ध पानी से श्रीगणेश का अभिषेक करें। साथ में गणपति अथर्व शीर्ष का पाठ भी करें। बाद में मावे के लड्डुओं का भोग लगाकर भक्तों में बांट दें।

  • यंत्र शास्त्र के अनुसार, गणेश यंत्र बहुत ही चमत्कारी यंत्र है। तिल चतुर्थी पर घर में इसकी स्थापना करें। इस यंत्र की स्थापना व पूजन से बहुत लाभ होता है। इस यंत्र के घर में रहने से किसी भी प्रकार की बुरी शक्ति घर में प्रवेश नहीं करती।
  • अगर आपके जीवन में बहुत परेशानियां हैं, तो आप चतुर्थी पर हाथी को हरा चारा खिलाएं और गणेश मंदिर जाकर अपनी परेशानियों का निदान करने के लिए प्रार्थना करें। इससे आपके जीवन की परेशानियां कुछ ही दिनों में दूर हो सकती हैं।
  • अगर आपको धन की इच्छा है, तो इसके लिए आप चतुर्थी पर सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान श्रीगणेश को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं। थोड़ी देर बाद घी व गुड़ गाय को खिला दें। ये उपाय करने से धन संबंधी समस्या का निदान हो सकता है।
  • चतुर्थी पर किसी गणेश मंदिर जाएं और दर्शन करने के बाद अपनी इच्छा के अनुसार गरीबों को दान करें। कपड़े, भोजन, फल, अनाज आदि दान कर सकते हैं। दान के बाद दक्षिणा यानी कुछ रुपए भी दें। दान से पुण्य की प्राप्ति होती है और भगवान श्रीगणेश भी अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं।

  •  चतुर्थी पर पीले रंग की गणेश प्रतिमा अपने घर में स्थापित कर पूजा करें। पूजा में श्रीगणेश को हल्दी की पांच गठान श्री गणाधिपतये नम: मंत्र का उच्चारण करते हुए चढ़ाएं। इसके बाद 108 दूर्वा पर गीली हल्दी लगाकर श्री गजवकत्रम नमो नम: का जाप करके चढ़ाएं। यह उपाय लगातार 10 दिन तक करने से प्रमोशन होने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।
  • चतुर्थी पर सुबह स्नान आदि करने के बाद समीप स्थित किसी गणेश मंदिर जाएं और भगवान श्रीगणेश को 21 गुड़ की गोलियां बनाकर दूर्वा के साथ चढ़ाएं। इस उपाय से भगवान आपकी हर मनोकामना पूरी हो सकती है।
  • यदि बिटिया का विवाह नहीं हो पा रहा है, तो चतुर्थी पर विवाह की कामना से भगवान श्रीगणेश को मालपुए का भोग लगाएं व व्रत रखें। शीघ्र ही उसके विवाह के योग बन सकते हैं।
  •  चतुर्थी को दूर्वा एक प्रकार की घास के गणेश बनाकर उनकी पूजा करें। मोदक, गुड़, फल, मावा-मिष्ठान आदि अर्पण करें। ऐसा करने से भगवान गणेश सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

  • यदि लड़के के विवाह में परेशानियां आ रही हैं, तो वह  चतुर्थी पर भगवान श्रीगणेश को पीले रंग की मिठाई का भोग लगाएं। इससे उसके विवाह के योग बन सकते हैं।
  •  चतुर्थी पर व्रत रखें। शाम को घर में ही गणपति अर्थवशीर्ष का पाठ करें। इसके बाद भगवान श्रीगणेश को तिल से बने लड्डुओं का भोग लगाएं। इसी प्रसाद से अपना व्रत खोलें और भगवान श्रीगणेश से मनोकामना पूर्ति के लिए प्रार्थना करें।

 

107 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.