जरूर पढ़े..!!धन प्राप्ति के लिए अपनी तिजोरी पर लगाए आइना,खुश होगी माँ लक्ष्मी..!!!

जरूर पढ़े..!!धन प्राप्ति के लिए अपनी तिजोरी पर लगाए आइना,खुश होगी माँ लक्ष्मी..!!!

धन प्राप्ति के लिए अपनी तिजोरी में लगाए आइना
धन प्राप्ति के लिए अपनी तिजोरी पर लगाए आइना

अगर आप अपनी जीवन में खुशियाँ चाहते है तो वास्तु की कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए इससे जीवन में खुशियाँ और सुख समृद्धि बनी रहती है। हमारे वास्तुशास्त्र में ऐसे कई उपायों के बारे में बताया गया है जिन्हें करने से भाग्य खुल जाता है और जीवन की सारी परेशानियों का अंत हो जाता है।अगर आप धन की इच्छा रखते है तो अपनी तिजोरी में नीचे या या ऊपर की ओर आईना लगाए। ऐसा करने से आमदनी कई गुना बढ़ जाती है और शुभ फल भी प्राप्त होता है।

आईना व्यक्ति के जीवन का एक अहम हिस्सा है। लोग आईने में खुद को निहारते हैं अौर खुद को संवारते हैं। आईने का वास्तु की दृष्टि में भी महत्व है। वास्तु के अनुसार आईना सकारात्मक और नकारात्मक उर्जा में अंतर किए बिना जैसी ऊर्जा आती है, उसे उसी प्रकार वापिस कर देता है। वास्तु विज्ञान का कहना है कि आईना चेहरा संवारने की जगह कई बार कि्स्मत भी बिगाड़ता है इसलिए आईने से जुडी ये बातें हमेशा ध्यान में रखना चाहिए:

  • घर में आईना लगाने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। इसके लिए आईने का सही दिशा में लगा होना ज़रूरी है। उत्तर-पूर्व दिशा आइना लगाने के लिए सबसे अच्छी होती है।
  • बेडरुम में आईना नहीं रखना चाहिए यदि रखना भी हो तो ऐसे स्थान पर रखें जहां पर उसमें सुबह उठने पर आपकी शक्ल न दिखाई दें अर्थात आईने में बिस्तर का दिखाई देना शुभ नहीं होता।
  • घर में टूटा हुआ आईना नहीं रखना चाहिए। इस प्रकार के दर्पण से जो रोशनी वापस आती है,वह घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह करती है। जिससे पारिवारिक सदस्यों के मध्य दूरियां आती हैं। इस प्रकार के आईने में चेहरा न देखें क्योंकि ऐसा करने से स्वास्थ्य प्रभावित होता है।
  • घर में आईने को उत्तर, पूर्व और उत्तर पूर्व दि्शा में रखना शुभ माना जाता है। जिससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है।
  • वास्तु विज्ञान के अनुसार गोल आकार का आईना शुभ नहीं होता परंतु आयताकार और वर्गाकार दर्पण का प्रयोग करना अच्छा होता है।
  • घर में दक्षिण या पश्चिम दिशा में आईने को न रखें क्योंकि इन दिशाअों में दर्पण रखने से कष्टों का आगमन होता है।
  • आईने पर धूल-मिट्टी नहीं जमनी चाहिए।
  • घर के बेसमेंट या दक्षिण पश्चिम दिशा में स्नानघर अौर शौचालय बना है तो वर्गाकार आईना पूर्वी दीवार पर लगाने से वास्तु दोष दूर होता है।