आज भी मौजूद हे शिव पार्वती के विवाह की निशानिया… शिवरात्रि के शुभ दिन ही भगवान शिव का विवाह माता पार्वती से हुआ था| उत्तराखंड में रुद्रप्रयाग स्थित