कुरुक्षेत्र से मात्र आठ किलोमीटर की दूरी पर स्थित गांव कमौदा में स्थित काम्यकेश्वर मंदिर में रविवारीय शुक्ला सप्तमी को दान व स्नान के लिए उमड़ने वाली श्रद्धालुओं