शिव शंकर भोलेनाथ के पास रहने वाली हर एक चीज का अपना अलग ही महत्व है। फिर उनके त्रिनेत्र हों, डमरू हो, त्रिशूल हो गले,में साप हो, वाहन