आखिर क्यों खंडित शिवलिंग की पूजा हो सकती है पर खंडित शिव मूर्ति की नहीं!!!! भगवान भोलेनाथ की  दो रूपों में पूजा की जाती है मूर्ति रूप और शिवलिंग रूप