सूर्य देव की प्रिय वस्तु घर के मंदिर में रखे यहां खुद सूर्य देव का हाथ होगा आपके सर !!

सूर्य देव की प्रिय वस्तु घर के मंदिर में रखे यहां खुद सूर्य देव का हाथ होगा आपके सर !!

जैसा कि हम जानते हैं कि सूर्य किसी भी जन्म कुंडली में एक अति महत्वपूर्ण ग्रह होता है तथा किसी भी कुंडली में सूर्य के अशुभ प्रभाव से जीवन में समस्या आती है।

सूर्य देव को नवग्रहों में सबसे शक्तिशाली ग्रह माना गया है इन्हें आत्म कारक कहा गया है। सभी ग्रह इन्हीं की परिक्रमा करते हैं. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सम्पूर्ण विश्व राशि-नक्षत्र और ग्रहों से प्रभावित है।

8 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.