क्या आपका जन्म भी सूर्यास्त के बाद हुआ है?? जानें ज्योतिष की नजर में कैसा है आपका जीवन!!

क्या आपका जन्म भी सूर्यास्त के बाद हुआ है?? जानें ज्योतिष की नजर में कैसा है आपका जीवन!!

वैदिक ज्योतिष शास्त्र हमें विभिन्न प्रकार की रोचक जानकारियां प्रदान करता है। हमारे जन्म समय में हमारे स्वभाव से लेकर और किन-किन बातों का रहस्य छिपा है, इसे हम जानने का प्रयास करें तो कभी ना खत्म होने वाले तथ्य सामने आते हैं।

व्यक्ति का जन्म समय उनके स्वभाव और भविष्य पर अलग-अलग प्रभाव डालता है। एक ही समय में जन्में लोगों की किस्मत का अलग होना भी ज्योतिष शास्त्र का ही एक चमत्कार है। लेकिन किस व्यक्ति के दिन के किस समय में जन्म हुआ है उसके हिसाब से उसका स्वभाव कैसा है, यह जानना भी रोचक है।विभिन्न अध्ययनों के अनुसार यह माना गया है कि दिन से लेकर रात तक के अलग-अलग समय में से शाम ढलने के बाद से सुबह सूर्योदय से पहले तक जिनका जन्म हुआ है वे लोग सोच और स्वभाव से काफी अलग पाए गए हैं।

ऐसे लोगों की सोच तो दूसरों से हटकर होती ही है, साथ ही ये दार्शनिक विचारों वाले भी होते हैं। कला और दर्शनशास्त्र की दुनिया में ये अच्छा नाम कमाते हैं।इनके दिल में कई तमन्नाएं होती हैं और उन्हें पूरा कर सकने के लिए भी कड़ी मेहनत करते हैं। जोशीले और कलात्मक सोच वाले होते हैं ये लोग और काम कैसा भी थमा दिया जाए, ये लोग उसे कई गुणा अधिक क्षमता के साथ प्रस्तुत करते हैं।

रात में जन्म लेने के कारण इन लोगों की कुंडली में बृहस्पति और राहु ग्रह को मजबूत पाया जाता है। जिसके कारण धन और खुशहाली हमेशा इनके जीवन में बनी रहती है।अगर ऐसे लोग हमेशा ही संकट मुक्त जीवन जीना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप करें –

“ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चन्द्रमसे नमः”।

यह मंत्र इनकी कुंडली में बन रहे अशुभ संयोगों को खत्म कर राहत दिलाता रहेगा।

Loading...