आख़िर क्यू प्रसन्न होते है शनि काले कपड़े से…. क्यू उनकी साढ़े साती से बचने क लिए उन्हे कला कपड़ा ओर तेल चढ़ाया जाता है..!!!!

शनि देव की साढ़े सती से बचने के लिए सिद्ध व्यक्तियों से यह एक उपाय अवश्य मिलता है शनि देवता को तेल के साथ ही काला कपड़ा अवश्य चढाये. इससे शनि देव प्रसन्न होते है.!!!
पर ऐसा क्यू???


यह तक की शनि देव के शरीर का रंग भी काला है. कैसे उनके शरीर का रंग काला पड़ा तथा आखिर क्यों वे काले रंग की चीज़ों से प्रसन्न होते है???
ऐसे पड़ा काला रंग-
जब शनि देव अपनी माता संज्ञा के गर्भ में थे तब शिव भक्तिनी संज्ञा ने भगवान शिव से एक पराक्रमी एवम तेजस्वी पुत्र की प्राप्ति के लिए उनकी बेहद कठोर तपस्या करि. कई दिनों तक भूखे प्यासे धुप में तपस्या करने के कारण शनि देव अपनी माता संज्ञा के गर्भ में ही काले रंग के हो गए .
अब प्रश्न उठता है की आखिर उन्हें काला रंग क्यों पसन्द है. दरअसल शनि देव श्याम वर्ण के है तथा ज्योतिष अनुसार काला रंग आलस्य का प्रतीक भी है. तथा शनि देव की चाल धीमी है जो की आलस्य को प्रदर्शित करता है इसलिए अशुभ शनि को शुभ शनि में परिवर्तित करने के लिए काले रंग की वस्तुए जैसे काला कपड़ा व काला तिल चढ़ाया जाता है.