जानिये रावण के इस भाई ने किया था एक कन्या का बलात्कार!!!

क्या आप जानते है, बलात्कारी था रावण का भाई!!

रेप और छेड़खानी जैसी मामले आज से नहीं बल्की भगवान राम के जमाने से चली आ रही है। जी हां आज हम आपको ऐसे ही अनोखी बातों से रूबरू करवाने वाले है। शिव पुराण में एक कथा कही गई है। जिसमें कर्कट राक्षस और पुष्कसी राक्षसी के बारे में बाताया गया है, इनकी एक बेटी भी थी जिसका नाम कर्कटी था। राक्षस माता पिता ने उसकी शादी विराध नाम के राक्षस से करवा दी। लेकिन वनवास के दौरान जब राम और लक्ष्मण दंडक वन से गुजर रहे थे तब विराध उनसे जा टकराया और उसकी मृत्यु हो गई।

क्या आप जानते है, बलात्कारी था रावण का भाई!
क्या आप जानते है, बलात्कारी था रावण का भाई!

इसके बाद कर्कटी दोबारा अपने माता पिता के साथ रहने लगी। एक दिन कर्कटी के माता पिता ने सुदीक्ष्ण नाम के तपस्वी को खाना चाहा, लेकिन ऋषि ऊपर से शांत दिख रहे थे पर अंदर से बड़े शक्तिशाली थे। इन दोनों रक्षस पर ऋषि ने ऐसा मंतर फूके कि दोनों वहीं मारे गए। कर्कटी अब पुरे संसार में अकेली हो गई, बेचारी ‘सह्य’ नाम के पहाड़ पर रहने लगी। लेकिन एक दिन इस पहाड़ पर रावण का भाई कुंभकर्ण आ पहुंचा और अकेली लड़की देखकर उसका बलात्कार कर डाला। नतीजा ये कि बड़ा शक्तिशाली राक्षस पैदा हुआ और उसका नाम रखा भीम। नाम से हैरान मत होइएगा, महाभारत वाले भीम से यहां कोई लेना देना नहीं है।

बाद में कुम्भकर्ण भी राम-लक्ष्मण से युद्ध में मारा गया। उधर मां-बेटा ‘सह्य’ पर्वत पर अकेले रहते है। लेकिन एक दिन बेटे ने कर्कटी ने पुछ ही डाला कि ‘मां मेरे पिता कौन है’ मां ने कुंभकर्ण का नाम लिया और फिर पूरी कहानी बताई कि कैसे उसे राम-लक्ष्मण ने मार डाला।

भीम ने बाप के मरने का किस्सा सुना तो वो गुस्सा हो गया। और बाप का बदला लेने उसने फैसला लिया। बाद में भीम ने ब्रह्मा की खूब तपस्या कीष, और ब्रह्मा ने भी भीम को बेहद ताकतवर बना डाला।इतना ताकतवर कि भगवान शंकर को आकर उसको मारना पड़ा।