पितृ पक्ष का महाशनिवारआज रात बस यह एक काम नही रहेगा आपका कोई काम अधुरा !!

पूजा-पाठ में कपूर का इस्तेमाल किया जाता है। इसे हिन्दू धर्म के अनुसार पवित्र माना जाता है। हवन सामग्री में कपूर का विशेष महत्व है। इसके इस्तेमाल के बिना ऐसा धार्मिक कार्य अधूरा ही माना जाता है।धर्म के अलावा स्वास्थ्य की दृष्टि से भी कपूर फायदेमंद है। विज्ञान ने स्वयं बताया है कि पूजा या हवन करते समय जब हम कपूर जलाते हैं, तो उससे निकलने वाला धुआं आसपास की नकारत्मक ऊर्जा को समाप्त करता है।यह कपूर हमारे आसपास हवा में मौजूद दूषित कणों को काटता है। इसलिए डॉक्टर घर में कपूर जलाने की सलाह देते हैं। हाल ही में कपूर से जुड़ा एक घरेलू नुस्खा भी काफी प्रसिद्ध हुआ था।

जिसके अनुसार नीम के पत्तों के तेल में कपूर की 2-3 टिकिया डालकर उसे जलाने से घर में मच्छर नहीं आते। साथ ही घर की वायु भी स्वच्छ हो जाती है।लेकिन आज हम आपको कपूर की मदद से मिलने वाले स्वास्थ्य संबंधी नहीं, वरन् कुछ शास्त्रीय प्रयोग बताने जा रहे हैं। हिन्दू शास्त्र, धर्म से कुछ अलग हैं। ये शास्त्रीय ज्ञान हमें अपने जीवन को संवारने में मदद करते हैं।

खैर यहां हम कपूर के प्रयोग से होने वाले कुछ शास्त्रीय उपायों की चर्चा करने जा रहे हैं। आशा है कि आपको ये उपाय पसंद आएंगे और आप इनका प्रयोग कर अपने जीवन और भी बेहतर बना सकेंगे।अगर आप अपना भाग्य चमकाना चाहते हैं, तो कपूर का एक शास्त्रीय प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए 12 साबूदाने लेकर कर्पूर की मदद से इन्हें जला दें। यह उपाय किसी भी दिन किया जा सकता है, किंतु अगर बृहस्पतिवार को किया जाए तो अधिक शुभ माना जाता है।

अगर आप शनि देव के अशुभ प्रभाव से परेशान हैं या जीवन में अधिक सुख प्राप्त करने के लिए उनकी कृपा पाना चाहते हैं, तो कपूर के उपयोग से होने वाला एक शास्त्रीय उपाय आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए शनि यंत्र धारण करें किंतु कोई साधारण शनि यंत्र नहीं, वरन् कर्पूर की कालि ख से लिपित यंत्र धारण करें।कपूर के शास्त्रीय उपाय आपको धन की देवी लक्ष्मी जी की भी कृपा दिला सकते हैं। लक्ष्मी जी की कृपा पाने के लिए लोग “श्री यंत्र” घर में लाते हैं। मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए खास प्रकार का श्री यंत्र चुना जाता है, जिसमें उनका प्रतीक भी बना हो।

इस यंत्र को घर में लाने से पहले कपूर के इस्तेमाल से एक छोटा-सा उपाय करें। इससे आपको अधिक फल हासिल होगा। उपाय के अनुसार रविपुष्य, गुरुपुष्य नक्षत्र या अन्य शुभ मुहूर्त में रजत, ताम्र, स्वर्ण या भोजपत्र पर इस यंत्र को कपूर का दीपक दिखाकर घर में स्थापित करें। इस यंत्र की पूजा-अर्चना से दुख, दरिद्रता दूर होकर घर में चिरस्थाई लक्ष्मी का वास होता है।कपूर के शास्त्रीय उपाय आपको धन की देवी लक्ष्मी जी की भी कृपा दिला सकते हैं। लक्ष्मी जी की कृपा पाने के लिए लोग “श्री यंत्र” घर में लाते हैं। मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए खास प्रकार का श्री यंत्र चुना जाता है, जिसमें उनका प्रतीक भी बना हो।

Loading...