Latest

किस भील ने अपने दोनों नेत्र चडाकर किया महादेव को प्रसन्न….

जब भील कण्णप्प की भक्ति से भगवान शंकर प्रसन्न हुए भील  कुमार कण्णप्प वन में भटकते-भटकते एक मंदिर के समीप पहुंचा। मंदिर में भगवान शंकर की मूर्ति देख
Read More

कौन है वो जिनके दर्शन के बिना महाकाल के दर्शन भी अधूरे है ……

  उज्जैन नगर स्थित काल भैरव के मंदिर में ना सिर्फ मदिरा का भोग लगाया जाता है बल्कि  जब भी किसी भक्त को मुकदमे में विजय हासिल होती
Read More

क्यों गए महाकाल देवी पार्वती के पास ब्रम्हचारी बनकर …..

शिव-पार्वती विवाह  जब सती के खुद को योगाग्रि में भस्म कर लेने का समाचार शिवजी के पास पहुंचा। तब शिवजी ने वीरभद्र को भेजा। उन्होंने वहां जाकर यज्ञ
Read More

महाकाल ने अर्जुन को स्वप्न में ही दे दिया कौन सा अस्त्र ……

भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन से कहा तुम शंकरजी के पास जाओ। शंकरजी के पास पाशुपत नामक एक दिव्य सनातन अस्त्र है। जिससे उन्होंने पूर्वकाल में सारे दैत्यों का
Read More

कपूर है इतना फायदेमंद की इसकी चमक की तुलना स्वयं महादेव से की गई ..

हिंदू धर्म में किए जाने वाले विभिन्न धार्मिक कर्मकांडों तथा पूजन में उपयोग की जाने वाली सामग्री के पीछे सिर्फ धार्मिक कारण ही नहीं है इन सभी के
Read More

काल भैरव के मंत्र जो आपका जीवन बदल देंगे ..

शिव की क्रोधाग्नि का विग्रह रूप कहे जाने वाले कालभैरव का अवतरण मार्गशीर्ष कृष्णपक्ष की अष्टमी को हुआ। इनकी पूजा से घर में नकारत्मक ऊर्जा, जादू-टोने, भूत-प्रेत आदि
Read More

जानिये कैसे महाकाल की वजह से शुरू हुआ वास्तु शास्त्र

मत्स्य पुराण के अनुसार प्राचीन काल में भयंकर अंधकासुर वध के समय विकराल रूपधारी भगवान शंकर के ललाट से पृथ्वी पर उनके स्वेद बिंदु गिरे थे, उससे एक
Read More

अंकशास्त्र से जाने क्या है आपका मूलांक…

हर व्यक्ति के जीवन में अंको का प्रभाव होता है इसीलिए अंकशास्त्र को एक विज्ञानं माना गया है अंकशास्त्र की सबसे पहली कड़ी है मूलांक.अब ये मूलांक  क्या
Read More

आपकी भूख है महाकाल का एक अवतार जानिये कैसे ……

भूख का स्वरूप है गृहपत्यावतार भगवान शंकर का सातवां अवतार है गृहपति। यह अवतार हमें संदेश देता है कि हम जो भी कार्य करें उसके केंद्र में भगवान
Read More

जानिये जब ब्रह्मा ने महाकाल का किया अपमान तो किसका जन्म हुआ…..!!!

कैसे हुआ काल भैरव का जन्म ‘शिवपुराण’ के अनुसार मार्गशीर्ष मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी को मध्यान्ह में भगवान शंकर के अंश से भैरव की उत्पत्ति हुई थी,
Read More