रामायण का दीवाना है दुनिया का ये सबसे बड़ा मुस्लिम देश!..!! सर्वाधिक लोकप्रिया है यहा हनुमान..!!!

भारत में साल 1992 में हुए बाबरी विध्‍वंस के बाद से हिंदू-मुस्लिम कट्टरता बढ़ गई है जो यंहा के घटिया एवं तुच्छ सोच वाले राजनेताओं की देन है। जहां आज रहीम का नाम लेने पर हिंदू भड़क उठता है तो वहीं राम का नाम लेने पर मुस्लिम। लेकिन इन सबके बीच दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहां मुस्लिम भगवान राम की पूजा करते हैं और रामायण का पाठ भी। इस देश में भगवान राम को मुसलमान अपना नायक मानते हैं, यंहा की जनमानस के बीच राम एक महान कथा पुरूष हैं और रामायण को अपने दिल का सबसे महत्वपूर्ण करीबी ग्रंथ मानते हैं। जिस तरह रामायण भारतीय जनता की आस्था का केंद्र है।

आपको बता दें कि यह एक ऐसा देश है, जिसमें दुनिया के सबसे ज्यादा मुस्लिम रहते हैं। खास बात यह है कि यह देश विश्व के सबसे बड़ी आबादी वाले, हिंदुओं के देश, भारत के एक महाकाव्य ‘रामायण’ का दीवाना है। यहां राम की नगरी अयोध्या भी स्थित है, जो यहां की जनता के लिए आस्था का प्रतीक है।

“इंडोनेशिया”
इस देश की सारी संस्कृति ही रामायण की पारंपरिक और सांस्कृतिक आस्था से संबंध रखती है। रामायण का यहां इतना गहरा प्रभाव है कि आज भी देश के कई इलाकों में रामायण के अवशेष और पत्थरों पर नक्‍काशी पर रामकथा के चित्र यहां मिलते हैं। विश्व के मानचित्र पर यह देश दक्षिण पूर्व एशिया में स्थित है। इसकी आबादी तकरीबन 23 करोड़ है। इसका नाम इंडोनेशिया है। यह दुनिया का चौथा सबसे अधिक आबादी वाला देश है। इसकी राजधानी जकार्ता है।

विश्व में पहली बार किसी मुस्लिम देश ने कराया था अंतर्राष्ट्रीय रामायण सम्मेलन:- 

सन 1973 में यहां की सरकार ने एक अंतर्राष्ट्रीय रामायण सम्मेलन का आयोजन करवाया था। यह अपने आप में दुनिया का सबसे अनूठा आयोजन था क्योंकि पहली बार किसी मुस्लिम देश ने हिंदुओं के सबसे पवित्र महाग्रंथ रामायण पर इस तरह का आयोजन करवाया था।