कोई भी मंत्र शुरू करने से पहले नहीं बोला ये तो बेकार चली जाएगी पूजा !!

कोई भी मंत्र शुरू करने से पहले नहीं बोला ये तो बेकार चली जाएगी पूजा !!

अलग-अलग ग्रंथों में शब्द की खासियत के बारे में बताया गया है इसका उच्चारण कैसे करना चाहिए कब करना चाहिए आदी। धर्म ग्रंथों के अनुसार केवल होम शब्द का उच्चारण कर लेने से ही भगवान ब्रह्मा विष्णु और महेश का आह्वान हो जाता है। जानी अलग-अलग धर्म ग्रंथो में लिखी हो हमसे जुड़ी खास बातें।

1 गापथ ब्राह्मण के अनुसार- किसी भी मंत्र का उच्चारण करते समय यदि ॐ न लगाया जाए तो महामंत्र जप निष्फल हो जाता है।मंत्र जप के आरंभ में ॐ लगाने से मंत्रोचारण से मिलने वाला फल कई गुना बढ़ जाता है।

2 कठोपनिषद के अनुसार ओम अक्षर ही ब्रह्म हे और यही परब्रह्म है। जो मनुष्य इसका महत्व समझकर ॐ का उच्चारण हर दिन करता है वो मनुष्य जो चाहे वो पा सकता है।