जानिए, जीवन की इन समस्याओं के लिये महामृत्युंजय का पाठ करना होगा अत्यंत लाभकारी…!

जानिए, जीवन की इन समस्याओं के लिये महामृत्युंजय का पाठ करना होगा लाभकारी…!

भगवान शिव का सबसे बड़ा मंत्र “महामृत्युंजय मंत्र” माना जाता है। शिवजी को प्रसन्न करने वाले जातक से मृत्यु भी महामृत्युंजय मंत्र से डरती है। हिन्दू धर्म अनुसार महामृत्युंजय मंत्र को प्राण रक्षक और महामोक्ष मंत्र भी कहा जाता है। सबसे पहले यह मंत्र ऋषि मार्कंडेय द्वारा पाया गया था। मृत्यु अगर निकट आ जाए और आप महाकाल के महामृत्युंजय मंत्र का जप करने लगे तो यमराज की भी हिम्मत नहीं होती है कि वह भगवान शिव के भक्त को अपने साथ ले जाए। इस मंत्र के जप से गंभीर रुप से बीमार व्यक्ति स्वस्थ हो गए और मृत्यु के मुंह में पहुंच चुके व्यक्ति भी दीर्घायु का आशीर्वाद पा गए| पुराणों में भी महामृत्युंजय मंत्रकी शक्ति से जुड़ी कई कथाएंहै जिनमें बताया गया है कि इस मंत्र के जाप से गंभीर रुप से बीमार व्यक्ति स्वस्थ हो गए और मृत्यु के मुंह में पहुंच चुके व्यक्ति भी दीर्घायु का आशीर्वाद पा गए। आज हम आपको कुछ एसी स्थितीया बताएँगे जब महामृत्युंजय का पाठ करना लाभकारी होगा|

महामृत्युंजय मंत्र

1. यदि आपके घर में जमीन-जायदाद के बँटबारे को लेकर कोई भी समस्या चल रही हो तो महामृत्युंजय मंत्र से वो समस्या दूर हो जाएगी|

2. ज्योतिष के अनुसार यदि जन्म, मास, गोचर और दशा, अंतर्दशा, स्थूलदशा आदि में ग्रहपीड़ा होने का योग है तो महामृत्युंजय मंत्र के पाठ से आपको इस पीड़ा से निजात मिलेगा|

3. यदि किसी भी मनुष्य को हैजा-प्लेग आदि महामारी हो तो इस मंत्र से वो बिमारिय भी दूर होगी|

4. धन सम्बन्धी कोई भी नुकसान होता आ रहा हो तो महामृत्युंजय मंत्र का पाठ करने से नुक्सान का खात्मा होगा और धनवृद्धि होगी|

5. मन धार्मिक कार्यों से विमुख हो गया हो तब भी महामृत्युंजय मंत्र का पाठ करना लाभकारी रहेगा|

6. महामृत्युंजय मंत्र का प्रयोग मेलापक में नाड़ीदोष, षडाष्टक आदि में भी किया जाता है|

Loading...