ज़रुर पढ़ें रहस्यमय कुँआ जिसके अंदर सें आती है रोशनी !!!

रहस्यमय कुँआ जिसके अंदर सें आती है रोशनी

कुओं में सिक्का डालकर मनोकामना मांगने की परंपरा भारत के अलावा अन्य भी बहुत से देशों में निभाई जाती है। मनोकामना पूरे होती है या नहीं इस बात से मान्यताओं का कोई लेना-देना नहीं होता। आमतौर पर पवित्र नदियों, तालाबों और कुओं में सिक्का दाला जाता है जिनका धार्मिक या पौराणिक महत्व होता है।लेकिन जिस कुएं की बात हम यहां कर रहे हैं उसका रहस्य आजतक कोई सुलझा नहीं पाया।

ऐसी ही एक अमेजिंग जगह पुर्तगाल के सिन्तारा के समीप स्थित कुआं हैं, जिसमें जमीन के अंदर से रोशनी निकलती है और बाहर की ओर आती है। यह कुआं क्यूंटा डा रिगालेरिया के पास है, जिसकी बनावट भी अजीब है।

विशिंग वेल सिन्तारा पुर्तगाल
विशिंग वेल सिन्तारा पुर्तगाल

आमतौर पर कुओं का प्रयोग पानी को संरक्षित करने के लिए किया जाता था लेकिन शायद यह दुनिया का ऐसा अनोखा कुआं है जिसकी स्थापना धार्मिक दीक्षा संस्कारों के उद्देश्य से की गई थी। जोकि अपने आप में एक रहस्यमय कथा है।बता दें कि इस कुएं की गहराई चार मंजिला इमारत के बराबर है, जो जमीन के अंदर जाते हुए संकरी होती जाती है। हैरानी की बात यह है कि इस कुएं के अंदर प्रकाश की कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे में रोशनी कहां से आती है यह रहस्य है। लेडीरिनथिक ग्रोटा नाम का यह कुआं दिखने में उल्टे टॉवर की तरह है।

यह कुआं एक विशिंग वेल भी है,लेकिन यहां आने वाले पर्यटक और स्थानीय लोग इसके अंदर से निकलने वाली रोशनी को लेकर ज्यादा रोमांचित रहते हैं।

विशिंग वेल पुर्तगाल
विशिंग वेल पुर्तगाल