जरूर पढ़े..!!केले के पत्तों की क्यों होती है पूजा..!!क्या है इनका पूजा में महत्व…!!!

जरूर पढ़े..!!केले के पत्तों की क्यों होती है पूजा..!!क्या है इनका पूजा में महत्व…!!!

आज हम आपको बता रहे है केले के पत्तों की पूजा क्यों होती है?आपने अक्सर सुना होगा केले के पत्तों के बारे में हमारे घर के बड़ों का ही कहना नहीं है बल्कि हमारे शास्त्रों में भी गुरुवार को केले के पत्तों को शुभ माना गया है और उसकी पूजा को लाभकारी। धार्मिक मान्यताओं की मानें तो केले के पेड़ में साक्षात देवगुरु बृहस्पति का वास होता है और गुरुवार का दिन भगवान बृहस्पति यानी कि भगवान विष्णु का दिन भी होता है। ऐसे में अगर आप गुरुवार को केले के पेड़ की पूजा करना शुरू कर देते हैं तो आप पर भगवान बृहस्पति की कृपा ज़रूर होगी।

यही नहीं, इसके अलावा गुरुवार को केले के पेड़ की पूजा करने से बृहस्पति ग्रह भी मजबूत होता है और ऐसे लोगों की शादी में रुकावटें कभी नहीं आतीं।कहते हैं कि केले के पेड़ की पूजा जो लोग करते हैं उनकी सभी मनोकामनाएं भी पूरी हो जाती हैं। गुरुवार को केले के पेड़ की पूजा करने वाले व्यक्तिं के परिवार की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होती है और परिवार में खुशियां भी आती हैं।

कैसे करें केले के पेड़ की पूजा

  • सबसे पहले हल्दी की गांठ, चने की दाल और गुड़ को केले के पेड़ को समर्पित करें।
  • अक्षत, पुष्प आदि मंगल चीजें चढ़ाएं और फिर केले के पेड़ की परिक्रमा करें।
  • ध्यान रहें कि घर के आंगन के वृक्ष को छोड़ किसी दूसरे पेड़ की ही पूजा करें।
  • सुबह सुबह उठकर मौन व्रत का पालन कर, पहले तो स्नान करें और फिर केले के वृक्ष को प्रणाम कर उन पर जल चढ़ाएं।

केले के पेड़ की पूजा करने के कुछ और भी महत्व हैं

  • जो व्यक्ति मांगलिक दोष वाले होते हैं उनकी अगर केले के पेड़ से शादी कर दी जाए तो उसका मांगलिक दोष दूर हो जाता है।
  • घर के किसी भी पूजा में या मांगलिक कार्यों में दरवाजों पर केले के पत्तों को लगाना बहुत शुभ माना जाता है।
  • भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को केला चढ़ाने से आपके घर में सुख व समृद्धि बनी रहती है और साथ ही वैवाहिक जीवन भी सुखी होता है।
  • यूं तो पुखराज रत्न धारण करना हर किसी के लिए संभव बात नहीं, तो ऐसे में आप केले की जड़ पहन सकते हैं क्योंकि इससे भी उतना ही लाभ आपको होगा।

Loading...