घर में झाड़ू लगाते वक़्त रखें इन बातों का खास ध्यान..!!दूर होगी सब परेशानी ..!!!!

घर में झाड़ू लगाते वक़्त रखें इन बातों का खास ध्यान..!!दूर होगी सब परेशानी ..!!!!

 झाड़ू को लक्ष्मी का रूप माना जाता है
झाड़ू को लक्ष्मी का रूप माना जाता है

झाड़ू को लक्ष्मी का रूप माना जाता है कहां जाता है कि झाड़ू से ही हमारे घर का कलाह तथा दरिद्रता आती भी है और जाती भी है। हमेशा साफ सफाई रखने से ही हमारे घर में लक्ष्मी माता निवास करती है,इसलिए हमेशा ही जब भी झाड़ू लगाने की बात हो तो कुछ बातों को आप ध्यान रखें जो कि आज हम आपको बताने जा रहे हैं।जब भी घर में कचरा होता है तो घर में झाडू लगाई जाती है जिससे की घर का कचरा निकाला जाए और घर में सफाई की जाए। झाडू घर की गंदगी साफ करने के काम तो आती ही है इसके साथ ही ये घर में व्याप्त नकारात्मक ऊर्जा को भी घर से दूर करती है।शास्त्रों के अनुसार किसी भी तरह से इसका अनादर नहीं करना चाहिए। झाडू से जुड़ी कुछ खास बातें हैं जिनको ध्यान में रखना आवश्यक होता है। चलिए आज आपको बताते है झाडू से जुड़ी कुछ बाते:

  • सूर्यास्त के समय या उसके बाद झाड़ू नहीं लगाना चाहिए, यह बहुत ही अपशगुन माना जाता है।
  • कोई भी सदस्य किसी खास कार्य के लिए घर से निकला हो तो उसके जाने के तुरंत बाद घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने पर उस व्यक्ति को असफलता का सामना करना पड़ सकता है।
  • झाड़ू आर्थिक दृष्टि से कितनी महत्वपूर्ण है इसी झाड़ू के कारण व्यक्ति करोड़पति और कंगाल दोनों बन सकता है। शकुन और अपशगुन शास्त्रों में झाड़ू का प्रयोग और उसको प्रयोग करने का समय तथा उसके प्रयोग करने की विधि को अत्यधिक महत्व दिया गया है। झाड़ू लगाते समय कभी भी पांव से उसका स्पर्श नहीं करना चाहिए अन्यथा उन्हीं पांव से चलकर अलक्ष्मी घर में स्थान बनाती हैं।
  • शाम को सूर्यास्त से पहले लगाने वाले झाड़ू की मिट्टी को कभी भी घर से बाहर नहीं फेंकना चाहिए क्योंकि शास्त्रों ने मिटूटी को मातृका मिट्टी कहा है। इसे घर से बाहर निकालने पर लक्ष्मी तो घर से बाहर चली जाती है परंतु अलक्ष्मी घर में प्रवेश कर जाती है।