पढ़िए रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य; जो करदेंगे आपको अचंभित…!!!

भारतीय पौराणिक कथा (Indian Mythological Story)

हमारे पुराणिक महा काव्य रामायण (Ramayan) के बारे में कौन नहीं जानता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि तुलसीदास द्वारा लिखी गई श्री रामचरितमानस और महर्षि वाल्मीकि द्वारा लिखी गई रामायण (Ramayan) में कितने ही ऐसे तथ्य हैं,

जिनका कही कोई जिक्र नहीं है।

रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य
रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य

तो आइए आज जानते हैं रामायण (Ramayan) से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य के बारे में:

रामायण (Ramayan) में तुलसीदास जी ने बताया है कि सीता स्वयंवर के समय श्रीराम (Ram) ने शिव धनुष को उठाया और प्रत्यंचा चढ़ाते समय वह टूट गया ।

जबकि ऋषि वाल्मीकि की रामायण (Ramayan) में सीता (Seeta) स्वयंवर का कोई जिक्र नहीं है।

रामायण (Ramayan) के अनुसार ऋषि विश्वामित्र राम और लक्ष्मण को मिथिला लेकर गए,

जहां उन्होंने मिथिला नरेश से उन्हें शिव धनुष दिखाने का आग्रह किया।

और उसी समय खेल-खेल में भगवान राम (Ram) ने धनुष उठाया और प्रत्यंचा चढ़ाते समय वह टूट गया।

रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य
रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य

रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य

विश्व विजय हेतु जब रावण स्वर्ग लोक पहुंचा तो उसे वहां रम्भा नामक अप्सरा मिली जिसे रावण (Ravan) ने वासना हेतु पकड़ लिया।

रम्भा ने कहा कि मैं आपके बड़े भाई के पुत्र नलकुबेर के लिए हूं, इसलिए आपकी पुत्रवधू समान हूं।

इस पर भी रावण (Ravan) ने उसे नहीं छोड़ा।

इसी कारण से कुबेर के बेटे नलकुबेर ने रावण (Ravan) को श्राप दिया कि,

यदि उसने कभी किसी स्त्री को उसकी आज्ञा के विरुद्ध स्पर्श किया तो उसके सिर के सौ टुकड़े हो जाएंगे।

धार्मिक कथा ( Religious Story)                

क्या आप जानते हैं कि शूर्पणखा के पति “विद्युतजिव्ह” का रावण (Ravan) ने एक युद्ध के दौरान वध कर दिया था।

जिस पर शूर्पणखा ने रावण (Ravan) को मन ही मन श्राप दिया कि मेरे ही कारण तेरा नाश होगा।

रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य
रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य

रावण (Ravan) जिस सोने की लंका का राजा था, क्या आप जानते हैं कि वह उसने अपने भाई कुबेर को विश्व विजय हेतु किये गए युद्ध में हराकर हासिल की थी।

सोने की लंका और पुष्पक विमान दोनों ही पहले कुबेर के थे।

रामायण (Ramayan) में लिखा है कि रावण (Ravan) एक बार अपने पुष्पक विमान से कहीं जा रहा था।

उस समय उसे वेदवती नामक स्त्री दिखाई दी जो विष्णु भगवान् को पति के रूप में प्राप्त करने के लिए तप कर रही थी।

रावण (Ravan) ने उसके बाल पकड़कर उसे अपने साथ चलने को कहा।

रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य
रामायण से जुड़े कुछ अनसुने रहस्य

रावण (Ravan) के हाथ लगाते ही उसी स्त्री वेदवती ने रावण (Ravan) को श्राप दिया कि एक स्त्री के कारण ही तेरी मृत्यु होगी।

राम (Ram) ने रावण (Ravan) का वध किया, यह तो सब जानते हैं,

लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि इंद्र देव ने अपना दिव्य रथ राम (Ram) जी के पास भेजा था,

जिस पर बैठकर प्रभु राम (Ram) ने रावण (Ravan) का वध किया।

 

परम पिता परमेश्वर आप सभी पर अपनी कृपा बनाए रखें ।

॥ जय श्री राम ॥