चट मंगनी पट ब्याह’ के लिए प्रसिद्ध है यह धाम, विदेशों से भी आते हैं यहां श्रद्धालु :

यह दुनिया का एक ऐसा मंदिर है, जहां होने वाली शादियां हर दूसरे साल अपना ही रिकॉर्ड तोड़ देती है ।

वैसे तो भारत में शिव भगवान के कई मंदिर हैं लेकिन आज हम जिस मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, वह मंदिर ‘चट मंगनी पट ब्याह’ के लिए बेहद प्रसिद्ध है। ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर में होने वाली शादियों का आंकड़ा हर साल पिछले वर्ष से ज्यादा हो जाता है।

ये मंदिर झारखंड के गिरिडीह जिले के बगोदर में स्थित है। इसे हरिहर धाम के नाम से जाना जाता है। यहां पर स्थित शिवलिंग की ऊंचाई 65 फीट की है। यह शिवलिंग ही एक मंदिर है। जबकि इसके अंदर छोटा सा एक और शिवलिंग स्थापित है, जिसकी पूजन की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि जिनकी शादी नहीं हो रही है वो यहां एक बार आये तो ये बात बन जाती है।

हरिहर धाम के बारे में ऐसा बताया जाता है कि यह दुनिया का इकलौता ऐसा मंदिर है, जहां होने वाली शादियां हर दूसरे साल अपना ही रिकॉर्ड तोड़ देती है। अर्थात इस मंदिर में होने वाली शादियों का आंकड़ा अपने पिछले साल से हर साल ज्यादा होता है।

ऐसा बताया जाता है कि यहां हर वर्ष एक हजार से ज्यादा जोड़े शादी के शुभ लग्न के मौके पर भगवान शंकर को साक्षी मान कर ब्याह रचाते हैं। यही कारण है कि यहां पर विदेशों से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं तथा हरिहर धाम में भगवान शंकर को साक्षी मान कर ब्याह रचाते है।

स्थानीय लोग बताते हैं कि हरिहरधाम की प्रसिद्धि अब शादी-ब्याह के निपटारे को लेकर लगातार बढ़ रही है। यहां पर देश-विदेश से भक्त श्रावण मास की पूर्णिमा को इस मंदिर में शिव भगवान के दर्शन करने आते हैं। इसके अलावा पर्यटक यहां पर साल भर आते रहते हैं।