चाहे कैसी भी परेशानी हो,गुरूवार को ये उपाय करने से मिलेगा छुटकारा..!!!

चाहे कैसी भी परेशानी हो,गुरूवार को ये उपाय करने से मिलेगा छुटकारा..!!!

गुरुवार का दिन भगवान बृहस्पति को समर्पित है। भगवान बृहस्पति को लेकर कहा जाता है वे सभी देवताओं के गुरू हैं,और कैसी भी समस्या हो ये सभी का समाधान करते हैं । अगर आपकी कुंडली में गुरु ग्रह का दोष है जिसके कारण आपको समस्याओं का सामना करना पड रहा है और यदि आपके अनूकुल स्थितियां होते हुए भी समस्या उत्पन्न हो रही है तो गुरुवार का दिन आपके लिए शुभ हो सकता है। गुरु दोष के शान्ति के लिए गुरुवार को कुछ उपाय करें जिससे आपको अपने काम में सफलता जरुर मिलेगी।

आज हम आपको बता रहे है गुरुवार को ये उपाय करने से हर समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

  • गुरुवार के दिन नहाते वक्त अपने नहाने वाले पानी में एक चुटकी हल्दी डालकर स्नान करे इसके बाद “ऊं नमो भगवते वासुदेवाय” का जप करते हुए केसर का तिलक लगाए और केले के वृक्ष में जल अर्पित हुए उसकी धूप- दीप से पूजा करे।
  • गुरुवार को सूर्योदय से पहले उठें। स्नान के बाद भगवान विष्णु के सामने घी का दीपक जलाएं।
  • विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें।

  • अगर आपकी कुंडली में गुरु का दोष हो तो हर गुरुवार को शिवजी को बेसन के लड्डू का भोग लगाएं। इससे आपको काफी फायदा मिलेगा।
  • अगर आपने व्रत रखा है तो इस दिन केले के वृक्ष की पूजा करके सत्यनारायण की कथा सुनें।
  • गुरु से जुडी पीली वस्तुओं का दान करें जैसे कि चने की दाल, सोना, हल्दी, आम आदि।
  • गुरु ब्रहस्पति की मूर्ति या तस्वीर को पीलें रंग के कपड़े पर विराजित करें। साथ ही विधि-विधान से पूजा करें। पूजा में केसरिया चंदन, पीले फूल और प्रसाद में गुड और चनें की दाल चढ़ाएं या इस रंग का कोई पकवान चढ़ाएं।

देवगुरु बृहस्पति के तंत्रोक्त मंत्र ना सिर्फ धन और वैभव की दृष्टि से चमत्कारी है बल्कि तुरंत असर करने वाले हैं। जरूरत है इन्हें एक साथ निरंतर जपने की। इन चमत्कारी पांचों मंत्रों की जप संख्या 19 हजार है। आप किसी भी एक गुरु मंत्र का गुरुवार के दिन जप कर सकते हैं

ॐ बृं बृहस्पतये नमः ||

ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम:।

ॐ ऐं श्रीं बृहस्पतये नम:।

ॐ गुं गुरवे नम:।

ॐ क्लीं बृहस्पतये नम:।

134 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.