गणेश जी के 3 एसे चमत्कारी मंत्र जो जगा देंगे आपकी सोई हुई किस्मत को…

किस्मत बदल देने वाले गणेश जी के चमत्कारी मंत्र –

जब जीवन में हर तरफ संकट हो, दुःख हो और निकलने का कोई मार्ग न दिखे तो हम सर्वप्रथम संकट मोचन गौरीपुत्र गजानन को ही याद
करते हे और गजानन ही वो भगवन हे जो हमारे सभी संकट हर लेते हे| संकट और दुःख के समय गजानन की आराधना तुरंत फल देती है।
भगवान गणेश की सात्विक साधनाएं अत्यंत सरल तथा प्रभावी होती है। इनमें अधिक विधि-विधान की भी जरूरत नहीं होती केवल मन में
भाव होने मात्र से ही गणेश अपने भक्त को हर संकट से बाहर निकालते हैं और सुख-समृदि्ध का मार्ग दिखाते हे|
भगवान् गणेश के कुछ इसे ही चमत्कारी मंत्र हे, जिनके पड़ने मात्र से ही
सभी दुःख दूर हो जायेंगे | जेसी भी समस्या हो, स्वास्थ सम्बन्धी हो या धन सम्बन्धी सभी समस्याओ का समाधान गणेशजी के चमत्कारी
मंत्रो में हे| लेकिन इन मंत्र के प्रयोग के समय व्यक्ति को पूर्ण सात्विकता रखनी होती है और क्रोध, मांस, मदिरा, परस्त्री से संबंधों से
दूर रहना होता है। आज हम आपके समक्ष गणेश जी के कुछ एसे ही चमत्कारी मंत्र प्रस्तुत करेंगे जिनके पड़ने मात्र से ही जीवन के
सभी दुःख दूर हो जायेंगे और सुख में सम्रद्धि लायेंगे|

* गणेश गायत्री मंत्र :

ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात।।

यह गणेश गायत्री मंत्र है। इस मंत्र का प्रतिदिन शांत मन से 108 बार जप करने से गणेशजी की कृपा होती है। लगातार 11 दिन तक
गणेश गायत्री मंत्र के जप से व्यक्ति के पूर्व कर्मो का बुरा फल खत्म होने लगता है और भाग्य उसके साथ हो जाता है।

* तांत्रिक गणेश मंत्र :

ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋदि्ध पति, सिदि्ध पति। मेरे कर दूर क्लेश।।

यूं तो यह एक तांत्रिक मंत्र है जिसकी साधना में कुछ खास चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। परन्तु रोज सुबह महादेवजी, पार्वतीजी
तथा गणेशजी की पूजा करने के बाद इस मंत्र का 108 बार जाप करने व्यक्ति के समस्त सुख-दुख तुरंत खत्म होते हैं। लेकिन इस मंत्र
के प्रयोग के समय व्यक्ति को पूर्ण सात्विकता रखनी होती है और क्रोध, मांस, मदिरा, परस्त्री से संबंधों से दूर रहना होता है।

* गणेश कुबेर मंत्र :

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।

यदि व्यक्ति पर अत्यन्त भारी कर्जा हो जाए, आर्थिक परेशानियां आए-दिन दुखी करने लगे। तब गणेशजी की पूजा करने के बाद गणेश
कुबेर मंत्र का नियमित रूप से जाप क रने से व्यक्ति का कर्जा चुकना शुरू हो जाता है तथा धन के नए स्त्रोत प्राप्त होते हैं जिनसे
व्यक्ति का भाग्य चमक उठता है।