आज पढ़िए मोर पंख के चमत्कारी उपाय..!!जो चमकाएँगे आपकी किस्मत..!!!

आज पढ़िए मोर पंख के चमत्कारी उपाय..!!जो चमकाएँगे आपकी किस्मत..!!!

चमत्कारी मोर पंख
चमत्कारी मोर पंख

मोर पंख के विषय में माना जाता है कि यह किसी भी स्थान को बुरी शक्तियों से बचाकर रखता है। यही वजह है कि अधिकांश लोग अपने घरों में मोर के खूबसूरत पंखों को लगाते हैं।मोरपंख अत्यधिक आकर्षक  होता है साथ ही तीनों लोकों की संपत्ति के स्वामी भगवान श्री कृष्ण का प्रिय और उनके मुकुट की शोभा  भी है। लेकिन यह मोरपंख सिर्फ श्रृंगार के लिए नहीं बल्कि सम्मोहन और धन आकर्षण के भी प्रयोग में आता है। इंद्र देव का मोरपंख के सिंहासन पर बैठना,  पौराणिक काल में महर्षियों द्वारा इसी मोर पंख की कलम बनाकर बड़े-बड़े ग्रंथ लिखना आदि कुछ ऐसे मुख्य उदाहरण हैं, जो मोरपंख की उपयोगिता को स्वत: बयां करते हैं।

हम आपको बताते हैं कि क्या कारण है जो मोर के खूबसूरत पंखों को भाग्य के साथ जोड़ा जाता है तथा मोर पंख रखने से हमें चमत्कारी फल प्राप्त होते है लेकिन  ध्यान रहे यह मोर पंख पाने के लिए मोर की हत्या करना या किसी तरह से उसे हानि पहुँचना वर्जित है ।आप वही मोरपंख प्रयोग करें जो मोर नाचते समय स्वतः  गिरा देते है।

  • हिंदू धर्म में मोर को धन की देवी लक्ष्मी के साथ जोड़कर देखा जाता है। लक्ष्मी सौभग्य, खुशहाली, विनम्रता और धैर्य का प्रतीक मानी जाती हैं इसलिए लोग मोर के पंखों का प्रयोग लक्ष्मी की इन्हीं विशेषताओं को हासिल करने के लिए करते हैं।
  • यदि मोर का एक पंख किसी मंदिर में श्री राधा-कृष्ण कि मूर्ती के मुकुट में ४० दिन के लिए स्थापित कर प्रतिदिन मक्खन-मिश्री का भोग सांयकाल को लगाए, ४१वें दिन उसी मोर के पंख को मंदिर से दक्षिणा-भोग दे कर घर लाकर अपने खजाने या लाकर्स में स्थापित करें।तो आप स्वयं ही अनुभव करेंगे कि धन,सुख-शान्ति कि वृद्धि हो रही है।सभी रुके कार्य भी इस प्रयोग के कारण बनते जा रहे है।
  • मोर पंख से बने पंखे को घर के अंदर ऊपर से नीचे फहराने से घर की आसपास की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है। घर में मोर पंख को रखने से शुभता का संचार होता है तथा सुख-समृद्धि और लक्ष्मी कृपा प्राप्त होती है।घर के वातावरण में मौजूद नकारात्मक शक्तियां नष्ट होती हैं और सकारात्मक शक्तियां सक्रिय होती हैं।
  •  घर के दक्षिण-पूर्व कोण में लगाने से बरकत बढती है,व अचानक कष्ट नहीं आता हैI
  • काल-सर्प के दोष को भी दूर करने की इस मोर के पंख में अद्भुत क्षमता है।काल-सर्प वाले व्यक्ति को अपने तकिये के खौल के अंदर 7 मोर के पंख सोमवार रात्री काल में डालें तथा प्रतिदिन इसी तकिये का प्रयोग करे।बैड रूम की पश्चिम दीवार पर मोर के पंख का पंखा जिसमे कम से कम 11 मोर के पंख तो हों लगा देने से काल सर्प दोष के कारण आयी बाधा दूर होती है I
  • बच्चा जिद्दी हो तो इसे छत के पंखे के पंखों पर लगा दे ताकि पंखा चलने पर मोर के पंखो की भी हवा बच्चे को लगे धीरे-धीरे हठ व जिद्द कम होती जायेगी।
  • मोर व सर्प में शत्रुता है अर्थात सर्प, शनि तथा राहू के संयोग से बनता है।यदि मोर का पंख घर के पूर्वी और उत्तर-पश्चिम दीवार में या अपनी जेब व डायरी में रखा हो तो राहू का दोष कभी भी नहीं परेशान करता है।तथा घर में सर्प, मच्छर, बिच्छू आदि विषेलें जंतुओं का भय नहीं रहता है।
  • नवजात बालक के सिर की तरफ दिन-रात एक मोर का पंख चांदी के ताबीज में डाल कर रखने से बालक डरता नहीं है तथा नजर दोष से बचा रहता है।