क्या आप जानना चाहते है की भगवान आपके साथ है या नहीं ? तो इस तरीके से आप पता कर सकते है

क्या आप जानना चाहते है की भगवान आपके साथ है या नहीं ? तो इस तरीके से आप पता कर सकते है !!

आपने बचपन में यह बात तो जरुर सुनी होगी भगवान आपके साथ है हमारे बड़े बुजुर्ग हमेशा यही समझाते हैं कि हम चाहे किसी भी परिस्थिति में रहें भगवान हमेशा हमारे साथ रहते हैं। इस बात का कैसे पता लगाएं कि भगवान हमारे साथ है या नहीं?? हम आपके इस सवाल का जवाब एक कहानी से देना चाहते हैं।


जन्म से ठीक पहले एक बालक भगवान से कहता है- “प्रभु आप मुझे नया जन्म मत दीजिए मुझे पता है पृथ्वी पर बहुत बुरे लोग रहते हैं।” इसलिए मैं वहां नहीं जाना चाहता। ऐसा कहने के बाद वह उदास होकर बैठ जाता है ।तो भगवान उसके सर पर स्नेहपूर्वक हाथ रखकर कहते हैं कि तुम्हें सृष्टि के नियम अनुसार पृथ्वी पर जाना होगा। तब बालक जिद करने लगता है पर भगवान मनाने पर वह नया जन्म लेने के लिए तैयार हो जाता है। जाने से पूर्व भगवान से कहता है-” ठीक है मैं पृथ्वी लोक में चला जाऊंगा पर आपको मुझे एक वचन देना होगा।” बालक ने कहा जब मैं पृथ्वी पर जाऊंगा आप मेरे साथ चलेंगे तब भगवान ने कहा ऐसा ही होगा।

तब बालक ने कहा पृथ्वी पर तो आप अदृश्य हो जाते हैं आपको देख कैसे सकता हूं और कैसे जान पाऊंगा कि आप मेरे साथ हैं या नहीं।भगवान ने कहा-” तुम जब भी आंख बंद करोगे तुम्हें दो जोड़ी पैरों के चिन्ह दिखाई देंगे तुम उन्हें देख कर समझ जाना की मैं तुम्हारे साथ हूं ।”उसके कुछ क्षण बाद बालक का जन्म हो जाता है जन्म के बाद सांसारिक मोह माया पढ़कर भगवान की वह बात भूल जाता है। पर मरते समय उसे वह बात याद आती है तो वह भगवान के वचन की पुष्टि करना चाहता है। फिर वह आंख बंद करके अपने जीवन को याद करने लगता है। तो वह देखता है कि जन्म के समय से ही वहां 2 जोड़ी पैरों के निशान दिखाई दे रहे हैं पर जब भी वह जीवन के सबसे मुश्किल समय में गुजर रहा था उस समय में सिर्फ एक ही जोड़ी पैरों के निशान दिखाई दे रहे थे। यह देखकर वह बहुत दुखी होता है कि भगवान ने उसे किया वचन नहीं निभाया और जिंदगी में सबसे मुश्किल समय में उन्होंने उसे अकेला छोड़ दिया।

मरने के बाद जब वह भगवान के पास पहुंचता है तो वह भगवान से नाराज होकर बोला -“प्रभु आपने तो बोला था कि आप हमेशा मेरे साथ रहेंगे पर मुश्किल के समय में मुझे 2 जोड़ी की जगह एक जोड़ी पैर के निशान देखे ।आपने मुश्किल समय में मेरा साथ क्यों छोड़ दिया। यह सुनकर भगवान मुस्कुराए और बोले जब तुम घोर विपत्ति से गुजर रहे थे तब मेरा दिल पिघल गया और मैंने तुम्हें अपनी गोद में उठा लिया था इसलिए उस समय सिर्फ मैंने ही पैरों के निशान देख रहे थे।
बहुत बार हमारे जीवन में बुरा वक्त आता है कई बार लगता है हमारे साथ बहुत बुरा होने वाला है। पर बाद में जब हम पीछे मुड़कर देखते हैं तो लगता है जितना बुरा सोचा था उतना बुरा नहीं हुआ क्योंकि शायद यही वह समय था जब भगवान ने हमें गोद में उठा लिया था। इसीलिए तो जब भी कभी आप बुरे वक्त से गुजर रहे हो घबराए नहीं क्योंकि आप के साथ भगवान खुद चल रहे होते हैं।