महादेव का एक मंदिर जिसका निर्माण किया है एक भूत ने

आज तक हमने भुत पिशाचो के बारे में सिर्फ डरावनी बातें ही सुनी है लेकिन आज हम आपको बता रहे है एक ऐसे मंदिर  के बारे में जिसके बारे में कहा जाता है की इसका निर्माण एक भूत ने किया है वो भी सिर्फ एक रात में । यह मंदिर है काठियावाड़, गुजरात का नवलखा मंदिर। यह मंदिर पौराणिक शिल्पकला का एक उत्कृष्ट नमूना है।  जानिये एक ही रात में किस भूत ने बनाया यह मंदिर

यह मंदिर  लगभग ढाई सौ से तीन सौ साल से भी ज्यादा प्राचीन बताया जाता है। इसके बारे में मान्यता है कि बाबरा नाम के एक भूत ने इस मंदिर का निर्माण किया था, वो भी सिर्फ एक रात में। नवलखा मन्दिर सोमनाथ के ज्योतिलिंग के समान ही बहुत ऊंचा है। इस मंदिर की स्थिति को देखकर लगता है कि किसी समय इसका जीर्णोद्धार भी कराया गया है । ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर को मुस्लिमों ने ध्वंस कर दिया था और बाद में काठी जाति के क्षत्रियों ने इसका पुनरोद्धार करवाया।

नवलखा मंदिर के विषय में मान्यता है कि मंदिर को बाबरा भूत ने एक ही रात में बनाया था। मंदिर के चारों ओर नग्न-अद्र्धनग्न नवलाख मूर्तियों के शिल्प हैं। सम्पूर्ण मंदिर 16 कोने वाली नींव के आधार पर निर्मित किया गया है। यह शिव मंदिर सोलंकी काल में बने प्रमुख महाकाल मंदिर में से एक है। नवलखा मंदिर का जीर्णोद्धार होने से पुराना-मूल भाग आज भी मजबूती के साथ खड़ा है, जबकि नए हिस्से में परिसर छोटा है वैसे यहाँ से जो अवशेष प्राप्त हुए है वो १२वी  या १३वी शताब्दी के जेठवा साम्राज्य के माने जाते है |