Author: Admin

पुष्य नक्षत्र कब से कब तक है जानिए शुभ समय :

पुष्य का अर्थ होता है पोषण करने वाला, ऊर्जा व शक्ति प्रदान करने वाला । मतान्तर से पुष्य को पुष्प का बिगडा़ हुआ रूप मानते हैं। पुष्य का
Read More

अधिकमास 2020 : इस खास महीने की 20 बातें बहुत काम की हैं !!

आश्विन महीने में अधिक मास 18 सितंबर से शुरू हो गया है और यह 16 अक्टूबर तक चलेगा । आइए जानते हैं इस महत्वपूर्ण माह की 20 काम की बातें।
Read More

श्राद्ध : श्राद्ध में ब्राह्मण भोज करवाने से पहले जान लोजीए ये 8 आवश्यक निर्देश !!

श्राद्ध में ब्राह्मण भोजन का विशेष महत्व होता है। शास्त्रानुसार ब्राह्मण पितरों के प्रतिनिधि होते हैं और पितर सूक्ष्म रूप से ब्राह्मणों के मुख से ही भोजन ग्रहण
Read More

सर्वपितृ अमावस्या 2020 : 16 दिन श्राद्ध नहीं किया है तो इस दिन करें ये काम !!!

आश्विन मास की कृष्ण अमावस्या को सर्वपितृ मोक्ष श्राद्ध अमावस्या कहते हैं। यह दिन श्राद्ध का आखिरी दिन होता है। अगर आप पितृपक्ष में श्राद्ध कर चुके हैं
Read More

अविश्वसनीय है मंदिर का रहस्य , 400 साल पुराने मंदिर में आज भी भगवान करते है बाते !!!

भले ही हम वैज्ञानिक युग में जी रहे है परन्तु आज भी ऐसे कई रहस्य छुपे है जिन्हे विज्ञान भी सुलझा नहीं पाया। कई ऐसी चमत्कारी घटनाए होती
Read More

मिलेंगे जब आपको ये संकेत , समझिए जल्द ही माँ लक्ष्मी का होने वाला है आगमन :

माँ लक्ष्मी को धन की देवी माना जाता है। हिन्दू शास्त्रों और पुराणों में ऐसा बताया गया है की अगर जिस किसी पर भी माँ लक्ष्मी की कृपा
Read More

5 जुलाई 2020 चंद्र ग्रहण : जानिए क्या असर पड़ेगा आपकी राशि पर :

साल का तीसरा चंद्र ग्रहण का आषाढ़ की पूर्णिमा पर लग रहा है , यह एक अद्भुत संयोग है। क्योकि आषाढ़ की पूर्णिमा पर ही गुरु पूर्णिमा का
Read More

जानिये किसने कर दी थी कोरोना वायरस की भविष्यवाणी चार महीने पहले ही !!

ज्योतिष की सही गणनाओं से की थी भविष्यवाणी अगस्त 2019 में ही कर दी थी कोरोना वायरस (corona virus ) की भवष्यवाणी | ज्योतिष विज्ञान हमेशा से ही
Read More

जानिये किन मंत्रो से करनी चाहिए शिव पूजा जिससे महादेव हो जाए प्रसन्न …….

शिव जी हिंदू धर्म के भगवान हैं। इन्हें देवों का देव महादेव भी कहा जाता है। शिवजी की आराधना का मूल मंत्र तो ऊं नम: शिवाय ही है।
Read More

जानिए क्यों महत्वपूर्ण है महामृत्युंजय मन्त्र?

जानिए क्यों महत्वपूर्ण है महामृत्युंजय मन्त्र? जानिए क्यों महत्वपूर्ण है महामृत्युंजय मन्त्र? ऊॅ हौं जूं सः। ऊॅ भूः भुवः स्वः ऊॅ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्।उव्र्वारूकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्।। जन्मकुण्डली
Read More