अगर आपके भी नाम पर भी है 8 अंक का साया, तुरंत करें ये उपाय !! वरना हो जाएंगे आप पुरी तरह से बरबाद !!

अगर आपके भी नाम पर भी है 8 अंक का साया, तुरंत करें ये उपाय !! वरना हो जाएंगे आप पुरी तरह से बरबाद !!

ज्योतिष में जितना महत्व नवग्रहों का होता है अंक ज्योतिष में उतना ही अधिक महत्व 1 से 9 अंक तक के सभी अंक का होता है। इनमें हर अंक एक ग्रह से जुड़ा है जिसका प्रभाव व्यक्ति के जीवन और उसके स्वभाव को तय करता है। वही यह कई प्रकार की परेशानियां लाने की वजह भी बन सकता है किसी भी जातक के नाम से अंक 8 का जुड़ाव कुछ इस प्रकार ही है।

अंक 8 को शनि ग्रह से प्रभावित माना गया है इसलिए इस अंक से जुड़ने वाले व्यक्तियों पर शनि का प्रभाव अधिक होता है जैसे कि अगर किसी व्यक्ति का जन्म आठवें महीने में हुआ है या किसी व्यक्ति की जन्म तिथि है। जन्म तिथि महा वर्ष है। तो उस व्यक्ति पर शनि का प्रभाव ज्यादा रहता है।

नाम पर अंक 8 का प्रभाव ठीक उसी प्रकार काम करता है 8 अंक वाले व्यक्ति के जीवन में अचानक दुर्घटना ,अकस्मात बीमारी ,या आघात की संभावनाएं बनी रहती है मारक शनि कामों में बेवजह की बाधा और सफलता निराशा देता है।

ऐसी स्थितियों में हत्या यह रहस्यमय मौत विवाह में बाधा है देर से विवाह होना या आजीवन कुंवारा रहना, वैवाहिक जीवन में पति और पत्नी की असमय मौत या अलगाव पारिवारिक कलह, धोखा छुपे हुए दुश्मन से आघात, कड़ी मेहनत के बाद भी थोड़ी सफलता जैसी घटनाएं होती है कई बार व्यक्ति इसे जीवन भर नहीं उभर पाता।


हालांकि इसका प्रभाव हमेशा बुरा भी नहीं होता शनि की अच्छी दशाएं व्यक्ति को दुनिया के मोह से मुक्त कर साधू भी बना देता है। वही इसका बुरा प्रभाव व्यक्ति को क्रिमिनल भी बना सकता है ऐसे नाम वाले व्यक्तियों को अचानक बड़ी सफलता मिल सकती है लेकिन दशा बदलते ही यह सफलता के शिखर से एक झटके में नीचे भी आ सकते हैं।

अगर आपको इन 8 अंक के प्रभावों से बचना है तो निम्नलिखित उपाय करें।

1 अगर आपके नाम का भी कुल अंक योग 8 है इसमें आपको उपनाम नहीं जोड़ना है तो इसके अक्षरों में फेरबदल कर इसके प्रभाव से मुक्त हो सकते हैं इसके अलावा हनुमान पूजा शनि शांति के लिए किए जाने वाले सभी उपाय इसके लिए लाभप्रद होते हैं।

19 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.