मेहंदीपुर बालाजी की 10 अनदेखी तस्वीरें! इन तस्वीरों में नजर आते हैं हनुमान !! जरुर देखे !!

अगर हम कहे की बिगड़ी किस्मत को सही करने वाला तीर्थ स्थल अगर मेहंदीपुर बालाजी है तो यह कहना गलत नहीं होगा मेहंदीपुर बालाजी भगवान हनुमान का एक महत्वपूर्ण पूजा स्थल है अगर आपका कोई भी काम जो नहीं बन रहा हो तो आप यहां आइए और सच्चे मन से भगवान हनुमान की प्रार्थना कीजिए और फिर देखे कि आप का काम कैसे बनता है। राजस्थान के दौसा जिले में स्थित यह मंदिर अपने आप में एक बहुत ही चमत्कारिक मंदिर माना जाता है।

वास्तव में मेहंदीपुर बालाजी एक ऐसा मंदिर है जहां पर भूत प्रेत और नकारात्मक शक्तियों को व्यक्तियों से दूर करने के लिए ज्यादा लोकप्रिय है।

1 यह मंदिर देश का इकलौता ऐसा मंदिर है जहां पर भगवान हनुमान जी के साथ-साथ प्रेतराज और भैरव भी स्थापित है यहां पर जो भी भक्त पूजन करने के लिए आता है उसे इन तीनों की पूजा करनी होती है।

2 यह मंदिर पूरे भारत में इसलिए मशहूर है क्योंकि यहां पर भूत-प्रेत से व्यक्तियों को छुटकारा दिलाया जाता है और आपको यह जानकर बहुत हैरानी होगी कि यहां पर पढ़े लिखे लोग भी नकारात्मक उर्जा से छुटकारा पाने के लिए इलाज कराने आते हैं।

3 इस मंदिर में भगवान हनुमान भगवान भैरव और प्रेत राज के प्रसाद भी अलग अलग बैठे हुए हैं हनुमान जी को लड्डू का भोग लगाया जाता है वही भैरव को उड़द की दाल का भोग लगाया जाता है और प्रेत राज को चावल अर्पित किए जाते हैं।

4 अगर कोई मनुष्य इस मंदिर में आने की सोच रहा है तो उसे 1 सप्ताह पहले ही मदिरा नशा और स्त्री से दूर हो जाना चाहिए।

5 इस मंदिर में जब शाम की आरती की जाती है तो जिन मनुष्यों के शरीर में दुष्ट आत्माएं रहती है वह खुद-ब-खुद सामने अवतरित हो जाती है और उनके द्वारा अजीबोगरीब कार्य किए जाते हैं।

6 कहा जाता है कि यह मंदिर 1000 साल पुराना है और एक पहाड़ी पर कभी खुद से भगवान हनुमान जी की आकृति प्रकट हुई थी यह मंदिर दो पहाड़ियों के बीच बसा हुआ है।

7 कहा जाता है कि कितनी भी बड़ी समस्या हो और कितनी ही पुरानी समस्या हो यहां पर प्रेतराज भैरव बाबा के कारण सारी समस्याओं से मनुष्य को छुटकारा मिल जाता है।

8 मेहंदीपुर बालाजी में भैरव बाबा को यहां का कोतवाल बताया जाता है भक्तगण यहां पर आकर सबसे पहले कोतवाल को अपनी समस्या सुनाते हैं और फिर प्रेतराज उन समस्याओं का निदान कर बुरी आत्माओं को दंड देते हैं।

9 यह बात सुनने में बहुत अजीब लगती होगी परंतु यहां के लोगों को किसी भी प्रकार की कोई दवाई नहीं दी जाती है मात्र हल्के झाड़ू से ही लोगों की आश्चर्यजनक रूप से इलाज किया जाता है और इसका लाभ भी बहुत जल्द मिलता है यहां पर हर साल लाखों करोड़ों लोग आकर अपना इलाज करवाते हैं और भगवान हनुमान से अपनी समस्या का निदान पाते हैं।

Loading...