क्या आप जानते हैं महादेव की है बेटियों के बारे में; अगर नहीं जानते तो जरूर पढ़ें…!!!

भगवान शिव से जुड़ी कथा (Stories of Lord Shiv)

संसार के संहारक सर्व जगह पूजित भगवान शिव (Shiv) के पुत्रों के बारे में तो आप जानते ही है ।

लेकिन क्या आप जानते हैं उनकी 3 पुत्रियां भी हैं जिनको आज भी भारत के विभिन्न हिस्सों में पूजा जाता है।

तो चलिए आज जानते है शिवजी (Shiv) की 3 पुत्रियों के बारे में।

देवो के देव महादेव
देवो के देव महादेव

अशोक सुंदरी

भगवान शिव (Shiv) की पहली पुत्री का नाम अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) है ।

इनका जन्म धार्मिक शास्त्र ‘पद्म पुराण’ में विस्तृत रूप से बताया गया है।

अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) का जिक्रगुजरात और कुछ पड़ोसी राज्यों में ‘व्रतकथाओं’ में आता है।

इन कथाओं के अनुसार अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) को देवी पार्वती (Parwati) की इच्छापूर्ति के लिए बनाया था, जिससे उनका अकेलापन को कम हो सके।

इसीलिए उसका नाम अशोक रखा गया था क्योंकि उसने देवी पार्वती (Parwati) को शोक या दु:ख से मुक्ति दिलाई थी।

बाद में वह अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) के नाम से जानी गई क्योंकि वे अपनी माता माँ पार्वती के समान ही बेहद ही सुंदर थीं।

महादेव की बेटी : अशोक सुंदरी
महादेव की बेटी : अशोक सुंदरी

शिवपुराण (Shivpuran) के अनुसार अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) का विवाह राजा नहुष से हुआ था।

और ये बात उनको बचपन से ही पता थी क्योकि ने भविष्य की सारी जानकारी रखती थीं।

अशोक सुंदरी (Ashok Sundari) की सौ पुत्रियां थी जो उन्ही के समान सुन्दर थी।

महादेव की बेटियाँ

ज्योति

प्रकाश की हिंदू देवी रूप में मान्यता प्राप्त ज्योति (Jyoti) भी महादेव (Mahadev) और पार्वती (Parwati) की बेटी है।

इनके जन्म की दो अलग-अलग कथायें हैं।

पहली के अनुसार वह महादेव (Mahadev) के प्रभामंडल से निकली थीं और वे भगवान की भौतिक अभिव्यक्ति है।

दूसरी कहानी में,  वह देवी पार्वती (Parwati) के माथे की चिंगारी से पैदा हुई थी।

महादेव की बेटी : मनसा देवी
महादेव की बेटी : मनसा देवी

वह सामान्यतः अपने भाई कार्तिकेय (Kartikey) से जुड़ी हुई थीं।

तमिलनाडु के कई मंदिरों में उनकी पूजा की जाती है।

भारत के कुछ हिस्सों में, उन्हें देवी रेकी के रूप में भी पूजा जाता है जो वैदिक राक के साथ जुड़ा हुआ है।

उत्तर भारत में, वह देवी जवालाईमुची के रूप में जानी जाती हैं।

मनसा

मनसा (Mansa) देवी महादेव (Mahadev) की तीसरी बेटी मानी जाती हैं।

जिनका जन्म सांप के विष से इलाज करने के रूप में हुआ था।

कहा जाता है की जब भगवान शिव (Shiv) के वीर्य ने जब राक्षसी कदरू द्वारा बनाई गई मूर्ति को छुआ था तो मनसा

मनसा देवी मंदिर
मनसा देवी मंदिर

(Mansa) देवी का जन्म हुआ था।

इन्हें कई जगह नागराज वासुकी की बहन के रूप में भी पूजा जाता है।

इनका प्रसिद्ध मंदिर हरिद्वार (Haridwar)में स्थापित है।

विशेष बात ये है कि मनसा (Mansa) देवी सिर्फ भगवान शिव (Shiv) की ही बेटी हैं उनका माता पार्वती (Parwati) से संबंध नहीं है।

 

 

॥ जय महाकाल ॥

Loading...