टोना टोटका और किये कराये का इलाज |

टोना टोटका : – दूसरों को अहित पहुचानें के उद्देश्य से की गयी तांत्रिक क्रियाएं जो की पूरी तरह नकरात्मक शक्तियों द्वारा संचालित होती है टोना या टोटका कहलाती है | इसे हम दूसरी भाषा में “किया कराया” भी कह देते है |

आज के समय में एक व्यक्ति दुसरे व्यक्ति की तरक्की देख कर खुश नही है | जिसके फलस्वरूप उनके अंदर हीन भावना पनपनी शुरू हो जाती है | और वे पहुँच जाते है किसी तांत्रिक या ओझा के पास उस व्यक्ति को अहित पहुचाने के लिए | और तांत्रिक पैसे के लालच में अपनी तांत्रिक क्रियाओं की सहायता से उस व्यक्ति को अहित पहुचाना शुरू कर देता है |

व्यक्ति के निजी और परिचित ही इस प्रकार के तांत्रिक कार्य करवाते है | क्योंकि आपके निजी और मिलनसार व्यक्ति ही आपकी तरक्की से खुश नही होते, यह एक प्रकार की मानवीय प्रकति है किन्तु ऐसे में तांत्रिक क्रियाओं का सहारा लेकर पीड़ित व्यक्ति के जीवन को खतरे में डालना एक दंडनीय अपराध है |

टोने -टोटके या किये -कराये के लक्षण : – 

टोने -टोटके पूरे परिवार पर भी हो सकते है, किसी परिवार एक सदस्य पर भी या फिर व्यक्ति के व्यवसाय पर भी | यदि टोटका पूरे परिवार पर हुआ है तो परिवार के सदस्यों में बिना किसी वजह के लड़ाई होना , बीमारी का घर से न जाना – (ऐसे में परिवार का एक सदस्य किसी बीमारी से ठीक होता है तो दूसरा बीमार हो जाता है, इस प्रकार बीमारी उस परिवार का पीछा नही छोडती), परिवार में खर्चे, आय से अधिक होना चाहे आय के स्त्रोत काफी हो, परिवार के किसी सदस्य की आकस्मिक मृत्यु हो जाना , व्यवसाय में अचानक से भारी नुक्सान हो जाना,  इस प्रकार के लक्षण दिखाई देने लगते है

यदि टोने -टोटके का प्रयोग किसी एक व्यक्ति पर किया गया है तो ऐसे में इसका असर सबसे पहले उसके मानसिक संतुलन पर होता है | ऐसा व्यक्ति स्वाभाव से चिडचिडा हो जाता है | सांस में भारीपन महसूर करना, रक्तचाप का सामान्य से अधिक या कम हो जाना , गले में खिचाव महसूर करना, बिना किसी वजह के शरीर का वजन लगातार कम होना,  अपने आप से बाते करना या किसी ऐसी बीमारी से पीड़ित हो जाना जो डॉक्टर्स की रिपोर्ट्स में नही आती हो, इस प्रकार के लक्षण यदि किसी व्यक्ति में दिखाई देने लगे तो हो सकता है कि वह व्यक्ति इस प्रकार की नकारात्मक क्रियाओं का शिकार हुआ हो |

 टोने -टोटके या किये -कराये का निवारण : – 

आज हम आपको ऐसे दो शाबर मंत्र के विषय में जानकारी देने वाले है जिनके प्रयोग से किसी भी व्यक्ति पर किये गये टोने -टोटके और किये -कराये के असर को खत्म किया जा सकता है |

मंत्र इस प्रकार है : –  1. 

सोम शनिश्चर भौम अगारी |

कहां चललि देई अंधारी |

चारि जटा वज्र के वार |

दीनहि बाँधों सोम दुवार |

उत्तर बाँधों कोइला दानव |

दक्षिण बाँधों क्षेत्रपाल |

चारि विद्या बाँधि के |

देउ विशेष भवर -भवर |

दिधिल भवर गये |

चलु उत्तरापथ योगिनी |

चलु पाताल से वासुकी |

चलु रामचंद्र के पायक |

अन्न्जनी के चीर लागे |

ईश्वर महादेव गौरा पार्वती की दुहाई |

जो टोना रहे एदी पिंड |

मन्त्र पढि फूंकै, टोना कइल न रहे |  

इस शाबर मंत्र का उच्चारण करते हुए यदि किये -कराये या टोने -टोटके से पीड़ित व्यक्ति को 7 बार फूँक लगायी जाये तो पीड़ित व्यक्ति से किये -कराये का असर ख़त्म हो जाता है |

शाबर मंत्र – 2 :- 

ॐ नमो आदेश गुरु का |

अपर कोष |

बिगड़ कोष |

प्रहलाद राख |

पाताल राख |

पांव दे बीज |

जंघा देवे कालिका |

मस्तक राखे महादेव |

जो कोई इस पिंड -प्राण को छेदे छेदे |

देव, देवता, भूत, प्रेत, डाकिनी, शाकिनी |

कंठमाला , तिजारी | 

एक पहर |

दोपहर |

साँझ सवेरे को |

किये – कराये को स्वाहा पड़े |

इसकी रक्षा नरसिंह जी करें | 

यह एक बहुत ही प्रभावी मंत्र है | इस शाबर मंत्र का जाप करते हुए रोगी को सात बार झाड़ा दे | रोगी को झाडा  मोरपंख या फिर चाक़ू द्वारा दिया जा सकता है | यदि झाडा मोरपंख से देते है तो इसके लिए पहले आप 10 या 15 मोरपंख को एक साथ बाँध ले | अब इस मोरपंख की झाड़ू से पीड़ित व्यक्ति को उपर से नीचे की तरफ झाडा करते जाये और मंत्र का जाप करते रहे |

चाकू द्वारा झाड़ा देने के लिए चाक़ू को पीड़ित व्यक्ति के सिर से लगाये और 7 बार मंत्र का जाप करें |

इसके अतिरिक्त : पीड़ित व्यक्ति के सिर से पाँव तक एक धागा नाप ले अब इस धागे में थोड़ी -थोड़ी दूरी पर  सात गाँठ लगाये | धागे में गाँठ लगाये समय उपरोक्त शाबर मंत्र का उच्चारण करते जाये | अब इस धागे को गूगल की धूनी देकर पीड़ित व्यक्ति को गले में धारण करवा दे | इस प्रकार करने से किये – कराये के सभी दोष तुरंत समाप्त हो जाते है और इसके साथ – साथ टोना करवाने वाले की हानि होती है |शाबर मंत्र अपने आप में सिद्ध मंत्र होने के कारण बहुत ही प्रभावशाली होते है और तुरंत प्रभाव दिखाते है | इन्हें सिद्ध करने की आवश्यकता नही होती है | कोई भी व्यक्ति इन मन्त्रों का प्रयोग कर अपने जीवन को सुखमय बनाने के साथ – साथ दूसरों का भी भला कर सकता है |

Loading...