क्या आपके घर मे भी तुलसी का पौधा बार बार सुख जाता है अगर हाँ तो ध्यान दें इन बातों का…!!!

घर-आंगन में तुलसी का पौधा होने से कई प्रकार के वास्तु दोष समाप्त होते हैं और परिवार की आर्थिक स्थिति पर शुभ असर होता है।अधिकांश हिंदू परिवारों में तुलसी का पौधा लगाने की परंपरा है और हो भी क्यों न क्योंकि तुलसी को देवी का रूप माना जाता है इसके साथ साथ तुलसी का धार्मिक महत्व भी है। विज्ञान के दृष्टिकोण से भी तुलसी एक औषधि है। आयुर्वेद में तुलसी को संजीवनी बुटि के समान माना जाता है।

तुलसी में कई ऐसे गुण होते हैं जो बड़ी-बड़ी जटिल बीमारियों को दूर करने और उनकी रोकथाम करने में सहायक है। तुलसी का पौधा घर में रहने से उसकी सुगंध वातावरण को पवित्र बनाती है और हवा में मौजूद बीमारी के बैक्टेरिया आदि को नष्ट कर देती है।तुलसी की सुंगध हमें श्वास संबंधी कई रोगों से बचाती है। साथ ही तुलसी की एक पत्ती रोज सेवन करने से हमें कभी बुखार नहीं आएगा और इस तरह के सभी रोग हमसे सदा दूर रहते हैं। तुलसी की पत्ती खाने से हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता काफी बढ़ जाती है,इतनी गुणकारी है तुलसी पर कभी-कभी तुलसी का पौधा कुछ कारणों से सुख जाता है ऐसे हमें विशेष तौर पर इन बातों का ध्यान रखना चाहिए आइये पढ़ते है।

  • कभी-कभी कुछ कारणों से तुलसी का पौधा सूख जाता है। सूखे हुए तुलसी के पौधे को घर में नहीं रखना चाहिए बल्कि इसे किसी पवित्र नदी में प्रवाहित कर देना चाहिए।
  • एक पौधा सूख जाने के बाद तुरंत ही दूसरा तुलसी का पौधा लगा लेना चाहिए। सुखा हुआ तुलसी का पौधा घर में रखना अशुभ माना जाता है।
  • तुलसी का पौधा होने से घर वालों को बुरी नजर प्रभावित नहीं कर पाती है। साथ ही, सभी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा सक्रिय नहीं हो पाती है। सकारात्मक ऊर्जा को बल मिलता है।लेकिन अगर पौधा सुख जाता है तो हमारे घर में नकारात्मक ऊर्जा सक्रिय हो जाती है।

  • सूखा हुआ तुलसी का पौधा घर में होने से बरकत पर बुरा असर पड़ सकता है। इसी वजह से घर में हमेशा पूरी तरह स्वस्थ तुलसी का पौधा ही लगाया जाना चाहिए।
  • तुलसी का पौधा घर का वातावरण पूरी तरह पवित्र और कीटाणुओं से मुक्त रखता है। इसके साथ ही देवी-देवताओं की विशेष कृपा भी उस घर पर बनी रहती है जहां तुलसी होती है, अगर पौधा सुख जाए तो इससे विपरित परिणाम भी प्राप्त हो सकते हैं। घर की शांति और समृद्धि पर बुरा असर पड़ सकता है।

इसी वजह से घर में हमेशा पूरी तरह स्वस्थ तुलसी का पौधा ही लगाया जाना चाहिए।

One Comment