अगर शरीर में रहती है हमेशा थकान तो समझ ले कुंडली में है शनि दोष..!!!जरूर पढ़े हमारा यह उपयोगी पोस्ट …!!!

अगर शरीर में रहती है हमेशा थकान तो समझ ले कुंडली में है शनि दोष..!!!जरूर पढ़े हमारा यह उपयोगी पोस्ट …!!!

आप लोगों ने अक्सर ऐसा देखा होगा कोई व्यक्ति हर बात को लेकर न करता है,कुछ करने को कहो तो करता भी नहीं है टाल देता है या करना चाहता ही नहीं है।अगर ऐसा कुछ हो रहा है तो ये एक लक्षण है की उस व्यक्ति को शनि दोष ने घेरा हुआ है। क्यूंकि शनि की प्रतिकूल अवस्था हमारी दिनचर्या को भी प्रभावित करती है, जिसे नोट करके जाना जा सकता है कि कहीं शनि प्रतिकूल तो नहीं। शनि का राशि परिवर्तन होते ही लोग भयभीत हो उठते हैं कि अब शनिदेव न जाने क्या गजब ढाएँगे। आज हम आपको बता रहे है वे लक्षण जिनसे आप पहचान सके की कुंडली में शनि दोष है फिर आप उसके लिए यथा संभव उपाय कर सकते है।

  • यदि शरीर में हमेशा थकान व आलसभरा लगने लगे।
  • नहाने अरुचि होने लगे,वक़्त होते हुए भी नहाने का मन न करें।
  • नए कपड़े व जूते जल्दी-जल्दी फटने लगें।
  • घर में तेल, राई, दालें फैलने लगे या नुकसान होने लगे।

  • अलमारी हमेशा अव्यवस्‍िथत रहने लगे।
  • भोजन से बिना कारण अरुचि होने लगे।
  • सिर व पिंडलियों में, कमर में दर्द बना रहे।
  • परिवार में सबसे खासकर पिता से अनबन होने लगे।
  • पढ़ने-लिखने से, लोगों से मिलने से उकताहट होने लगे, चिड़चिड़ाहट होने लगे।

अगर आपको ऐसे कोई लक्षण दिखे तो शनि देव को प्रसन्न कर आप अपने आप को ठीक कर सकते है। इसके लिए आपको तेल, राई, उड़द का दान करना होगा । पीपल के पेड़ को सींचें, दीपक लगाएँ। हनुमान जी व सूर्य की आराधना करें, माँस-मदिरा का त्याग करें, गरीबों की मदद करें, काले रंग न पहनें, काली चीजें दान करें। ऐसा करने से आप शनि दोष से मुक्त हो सकते है।

॥ जय शनि देव ॥

722 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.