रात को बिल्कुल नहीं करने चाहिए ये काम!!! पड़ सकता है जीवन पर बुरी शक्तियों का साया!!

शास्त्रों के अनुसार रात को बिल्कुल नहीं करने चाहिए ये काम!!!

शास्त्रों और पुराणों में दिन और रात के लिए अलग-अलग काम बताए गए हैं।  हर काम का एक नियत समय निर्धारित किया गया है।यह सारे नियम इस तरह से बनाए गए हैं जो किसी न किसी तरह मनुष्य के लिए लाभकारी हैं। जहां कुछ काम ऐसे है जिन्हे करने से जीवन पर अच्छा प्रभाव पड़ता है वहि कुछ ऐसे काम हैं जो रात के समय बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। यहां हम ऐसे  कामों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें पुराणों में रात के समय करने की मनाही की गई है।

खुले बाल नहीं सोना चाहिए

शास्त्रों के अनुसार  रात में लड़कियों को बालों को खुले रखकर नहीं सोना चाहियें। ऐसा माना जाता है कि खुले बाल होने पर नकारात्मका उर्जा आसानी से इन पर प्रभाव बना लेती हैं। इसलिए सोने से पहले बालों को बांध लेना चाहिए।

चौराहों पर नहीं जाना चाहिए

चौराहा यानी जिस स्थान पर चारों ओर से आकर सड़कें आकर मिलती हो उस स्थान पर भी रात के समय नहीं जाना चाहिए। चौराहा संधि स्थल माना जाता है। इसलिए यहां नकारात्मक उर्जा के प्रभाव बना रहता है, खासतौर पर रात में यह प्रभाव बढ़ जाता है। आपने देखा भी होगा कि कुछ लोग शाम में या रात में चौराहे पर आकर टोने-टोटके करते हैं। इसलिए यहां पर देर रात टहलना खतरनाक हो सकता है।

श्मशान के आसपास नहीं जाना चाहिए

विष्णु पुराण में बताया गया है कि रात के समय भूलकर भी श्मशान के आस-पास नहीं जाना चाहिए। इसका कारण यह है कि श्मशान भूमि मे शवों का अग्नि मे संस्कार किया जाता है मृत्यु पर परिजन विलाप  करते है जिससे वहा के वातावरण मे नकारात्मक उर्जा का प्रभाव ज्यादा रहता है और श्मशान भूमि आस-पास नकारात्मक उर्जा अधिक सक्रिय रहती है। नकारात्मक उर्जा के प्रभाव से आप प्रभावित हो सकते हैं और आपको नुकसान भी हो सकता है।

बुरे चरित्र वाले व्यक्ति से दूर रहना चाहिए

रात के समय पुरुषों को किसी पराई स्त्री से और स्त्री को किसी पराए स्त्री के साथ अकेले नहीं मिलना चाहिए। इसके अलावा बुरी संगति में रहने वाले लोगों से भी संपर्क में नहीं रहना चाहिए। क्योंकि इन दोनों ही स्थितियों में आपकी बदनामी और आपको नुकसान पहुंच सकता है।

इत्र लगाकर नहीं सोना चाहिए

बहुत से लोग रात को सोने से पहले इत्र लगाते हैं। जबकि शास्त्रों के अनुसारा रात में इत्र लगाने से नकारात्मक शक्तियां आपकी ओर आकर्षित होती है। इसलिए कहा जाता है कि रात में हाथ पांव और चेहरा धोकर ईश्वर का ध्यान करते हुए सोना चाहिए।

82 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.