जानिए घर की किस दिशा में पैसा रखने से बनी रहती है माँ लक्ष्मी की कृपा !!होती है धन में बढ़ोतरी

हम सभी यही चाहते है की जितना भी धन हमारे पास है उसे हम संजोकर रखे और जरुरत आने पर ही खर्च करे साथ ही साथ हम सब यह भी चाहते है की हम खूब मेहनत करके खूब पैसा कमाए पर कभी कभी हमारी एक छोटी गलती हमें भारी पड़ सकती है,और हमारा धन बढ़ने की जगह घटने लगता है। मेहनत और योग्यता के अनुसार आपकी आय नहीं है तो देखिए कि कहीं इसकी वजह आप खुद तो नहीं। हम सभी यह चाहते हैं कि हमारा धन दिनों दिन बढ़ता रहे। आइए जानें कि हम अपनी धन-संपदा, कीमती सामग्री और आभूषण किस दिशा में कैसे रखें कि उसमें चौगुनी वृद्धि हो।

वास्तु विज्ञान के अनुसार तिजोरी या अलमारी गलत दिशा में रखने पर इसका असर घर के मुखिया की आमदनी पर पड़ता है। इससे धन की बरकत भी नहीं होती है। इसलिए अगर आपके घर में यह दोष है तो इसे जल्दी ठीक कर लीजिए।

पूर्व दिशा : यहां घर की संपत्ति और तिजोरी रखना बहुत शुभ होता है इससे उपलब्ध सामग्री में वृद्धि होती रहती है। वास्तु विज्ञान में पूर्व दिशा को उन्नति और उर्जा की दिशा कहा गया है। इस दिशा के स्वामी इन्द्र हैं, जो देवताओं के राजा हैं। इसलिए धन-संपत्ति में वृद्धि की आशा रखने वाले को तिजोरी और धन रखने वाली अलमारी को पश्चिमी दीवार से लगाकर रखना चाहिए।

पश्चिम दिशा : यहां धन-संपत्ति और आभूषण रखे जाएं तो घर का मुखिया बड़ी कठिनाई के साथ धन कमा पाता है।अगर आप पश्चिम दिशा में तिजोरी या धन रखते हैं तो ऐसा होना कठिन होता है। वास्तु विज्ञान के अनुसार इस दिशा का स्वामी वरूण को माना जाता है। इसके कारण इस दिशा में धन रखने से धन पाने के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ता है और धन पानी की तरह खर्च होता है। इसलिए आर्थिक तंगी बनी रहती है।

उत्तर दिशा : नकद व आभूषण जिस अलमारी में रखते हैं, वह अलमारी भवन की उत्तर दिशा के कमरे में दक्षिण की दीवार से लगाकर रखना चाहिए। इस प्रकार रखने से अलमारी उत्तर दिशा की ओर खुलेगी, उसमें रखे गए पैसे और आभूषण में हमेशा वृद्धि होती रहेगी। उत्तर दिशा में अलमारी का मुंह खुलने से धन और ज्वेलरी में बढ़ोतरी होती है।

दक्षिण दिशा : इस दिशा में धन, सोना, चांदी और आभूषण रखने से नुकसान तो नहीं होता परंतु बढ़ोत्तरी भी विशेष नहीं होती है। जिस तिजोरी या अलमारी में कैश व ज्वेलरी रखते हैं उसे कमरे में दक्षिण की दीवार से लगाकर रखें। इससे अलमारी का मुंह उत्तर की ओर खुलेगा। इस दिशा के स्वामी देवताओं के खजांची कुबेर हैं। तिजोरी दक्षिण में रखें। ऐसा करने से तिजौरी हमेशा भरी रहती है।

अगर आपकी तिजोरी का मुंह दक्षिण दिशा की ओर खुलता है तो जल्दी से जल्दी तिजोरी का स्थान बदल दें। दक्षिण दिशा का स्वामी यम है। इस दिशा में तिजोरी का मुंह खुलने से रोग एवं अन्य दूसरी चीजों में धन का व्यय बढ़ जाता है। इस दिशा में धन रखने से धन की हानि होती है। वास्तु विज्ञान के अनुसार इस दिशा में ज्वेलरी रखने से ज्वेलरी की वृद्धि रूक जाती है।

 

 

 

 

 

222 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.