आज जानिये लाल किताब का एक सिद्ध उपाय जिससे जाग जाएगी आपकी सोयी हुई किस्मत !!

हमारे हिंदू धर्म के विद्वान ज्योतिषाचार्य ने अनेक ऐसी विधाओं की खोज या आविष्कार किया है जिनके माध्यम से हम भविष्य को भाप पाने की कोशिश कर सकते हैं । इन्हीं विधाओं में से एक प्रसिद्ध एवं अत्यंत प्रभावकारी विधा है लाल किताब लाल किताब के विषय में अक्सर हम और आप सुनते ही आए हैं परंतु क्या आप जानते हैं कि आखिर वास्तव में लालकिताब है क्या?

ज्योतिष तथा हस्तरेखा शास्त्र पर आधारित एक किताब जो 19वी शताब्दी में लिखी गई थी संसार भर में लाल किताब के नाम से विख्यात हुई है यह पूर्णता समुद्री शास्त्र पर आधारित है।

लाल किताब में जीवन को सही तरीके से जीने के लिए भी बहुत से तरीके बताए गए हैं जिन्हें अपनाकर व्यक्ति एक सुखद जीवन जी सकता है। इसके अलावा लाल किताब में धन संबंधी और जीवन की अन्य परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए भी उपाय बताए गए हैं जो सप्ताह के हर दिन पर अलग-अलग प्रकार से जुड़े हुए हैं।

आज हम आपको लाल किताब से जुड़ा धन प्राप्ति और हर समस्या से मुक्ति प्राप्त का एक अचूक मंत्र बताने जा रहे हैं जिसके जाप से आपको ना आपको केवल धन से संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिलेगा बल्कि जीवन की हर समस्याओं से आपको निजात मिलेगी तो आइए जानते हैं कौन सा है वह मंत्र।

ॐ महालक्ष्मी च विद्महे विष्णुपत्नी च धीमहि तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात

इस मंत्र का निम्न जाप आपको प्रातः 108 बार 1 हफ्ते तक करना है।

1 सोमवार का दिन भगवान चंद्र को समर्पित होता है इसलिए लाल किताब के अनुसार अगर आपको चंद्रमा को प्रसन्न करना है तो इस दिन खीर धारण करनी चाहिए और साथ ही सफेद वस्त्र धारण करने चाहिए।

2 मंगलवार का दिन हनुमान को समर्पित होता है इस दिन गरीबों को मीठी रोटी और मसूर की दाल का दान करना बहुत ही लाभकारी सिद्ध होता है।

3 बुधवार का दिन बुद्धि के देवता को समर्पित किया जाता है इस दिन भूल से भी मूंग की दाल का सेवन नहीं करना चाहिए जिन व्यक्तियों को व्यापार में बाधा उत्पन्न हो रही है इस दिन उन्हें किसी ब्राह्मण को गाय दान करनी चाहिए

4 गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित होता है इस दिन पीले रंग के वस्त्रों का दान करना चाहिए तथा भोजन में इस दिन कढ़ी चावल लेना चाहिए क्योंकि इस दिन कढ़ी चावल का सेवन फायदेमंद होता है।

5 शुक्रवार का दिन असुरों के गुरु शुक्र का दिन है इस दिन प्रातः दही का सेवन अवश्य करें।

6 शनिवार का दिन न्याय के देवता शनि देव को समर्पित होता है इस दिन घर में कोई भी नहीं खरीदी वस्तु न लाएं तथा प्रातः शनिदेव पर तेल अवश्य चलाएं।

7 रविवार का दिन भगवान सूर्य को समर्पित होता है इस दिन भगवान सूर्यदेव को जल्द सिंदूर अर्पित करें तथा जो व्यक्ति अपना सौभाग्य चमक आना चाहता है वह इस दिन गुरु को नदी में प्रवाहित करें।

2 Comments