जानिए क्या होती है तांत्रिक साधना में काम आने वाली हत्था जोड़ी:क्यों है इसका इतना गहरा प्रभाव..!!!

पूर्व काल से ही तांत्रिक वस्तुयें भाग्य वृद्धि/सुरक्षा के लिये प्रयोग में लाई जारही है। इनमे से प्रमुख है हत्था जोड़ी जब व्यक्ति को जीवन मे कोई साधन/रास्ता न मिले, तो दीपावली की रात को यह मन्त्र पूजा से सिद्ध करके अपने पास में रखने से साधनो की प्राप्ति में सहायता मिलती है क्योकि इस दीपावली की विशेष रात्रि को मंत्रो द्वारा सिद्धि प्राप्त करने की विशेष योग है।

तांत्रिक साधना में काम आने वाली हत्था जोड़ी
तांत्रिक साधना में काम आने वाली हत्था जोड़ी

हत्था जोडी की बात करें तो यह एक प्रभावशाली तांत्रिक वस्तु है, यह बहुत पुराने जंगलों में दाब नाम की घास के पेड की जड से निकलती है ।इस जड़ की आकृति दो जुड़े हुए हाथों के रूप में होती है, इसलिए इसे हत्था जोड़ी कहा गया है | तंत्र शास्त्र में हत्था जोड़ी एक विशिष्ट स्थान रखती है।हत्था जोड़ी

तांत्रिक प्रयोगों में काम आने वाली एक दुर्लभ एवं चमत्कारिक वस्तु है | ये एक प्रकार की वनस्पति बिरवा की जड़ है, लेकिन इसे दुर्लभ माना जाता है, क्योकि ये सहज उपलब्ध नहीं होती है |

हत्था जोड़ी के प्रभाव

  • ये साक्षात् माँ महाकाली और कामाख्या देवी का स्वरुप मानी जाती है। देखने में ये भले ही किसी पक्षी के पंजे या मनुष्य के हाथो के समान दिखे लेकिन असल में ये एक पौधे की जड़ है।
प्रभावशाली तांत्रिक वस्तु
प्रभावशाली तांत्रिक वस्तु
  • तांत्रिको के अनुसार दीपावली की रात को सिद्ध की गई हत्था जोड़ी जीवन भर संकटों, बाधाओं, ऊपरी हवा, किसी किये कराये या बुरे तांत्रिक प्रभाव से साधक की रक्षा करती है।
  • हत्था जोड़ी का प्रयोग दांपत्य जीवन में आ रही समस्यओं को दूर करने में, व्यापार वृद्धि में, धन प्राप्ति इत्यादि में की जाती है | इसे स्त्रियों को छूना मना होता है स्त्रियों के छूने से इसकी शक्ति ख़त्म हो जाती है.ऐसा शस्त्रों मे लिखा है.इसे पीले सिंदूर मे चाँदी की डिब्बी मे लौंग ,इलायची ,गुग्गूल,चाँदी आदि वस्तुओं के साथ आभिमंत्रित करके रक्खा जाता है|

  • ज्योतिष के अनुसार यह जड़ बहुत चमत्कारी होती है और किसी कंगाल को भी मालामाल बना सकती है। इस जड़ के असर से मुकदमा, शत्रु संघर्ष, दरिद्रता से जुड़ी परेशानियों को दूर किया जा सकता है। इस जड़ से वशीकरण भी किया जाता है और भूत-प्रेत आदि बाधाओं से भी निजात मिल सकती है।
  • हत्था जोड़ी जो की एक महातंत्र में उपयोग में लायी जाती है और इसके प्रभाव से शत्रु दमन तथा मुकदमो में विजय हासिल होती है ।
ये एक प्रकार की वनस्पति बिरवा की जड़ है
ये एक प्रकार की वनस्पति बिरवा की जड़ है
  • आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो आपको अपनी आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए उपाय करना चाहिए। इसके लिए किसी भी शनिवार अथवा मंगलवार के दिन हत्था जोड़ी घर लाएं। इसे लाल रंग के कपड़े में बांधकर घर में किसी सुरक्षित स्थान में अथवा तिजोरी में रख दें। इससे आय में वृद्घि होगी एवं धन का व्यय कम होगा।
  • तिजोरी में सिन्दूर युक्त हत्था जोड़ी रखने से आर्थिक लाभ में वृद्धि होने लगती है। हाथा जोड़ी एक जड़ है। गायत्री मंत्र से पूजने के बाद इलायची तथा तुलसी के पत्तों के साथ एक चांदी की डिब्बी में रख दें। इससे धन लाभ होता है।हाथा जोड़ी को इस मंत्र से सिद्ध करें-
हत्था जोड़ी
हत्था जोड़ी

ऊँ किलि किलि स्वाहा।

  • हत्था जोड़ी मंत्र अगर आप दांपत्य जीवन के लिए इसका प्रयोग कर रहे हो :—-

ॐ हाँ ग़ जू सः अमुक में वश्य वश्य स्वाहा |

  • हत्था जोड़ी मंत्र अगर आप धन और व्यापार के लिए इसका प्रयोग कर रहे हो :—

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री महालक्ष्मयै नमः |

  • हत्था जोड़ी मंत्र अगर आप शिक्षा और नौकरी के लिए इसका प्रयोग कर रहे हो :—-

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं सरस्वतये नमः

4 Comments