अगर आने वाला है घर में नया मेहमान; तो वास्तु अनुसार जानिए शिशु और माँ के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कमरे में क्या रखें..!!

जैसा की पहले भी बताया गया है वास्तु शास्त्र में एक भवन निर्माण से लेकर किसी वस्तु को किस स्थान पे रखना चाहिए ये सब बताया गया है। हमारे धर्म में कई सारे संस्कार है गर्भ को धारण करने से लेकर शिशु के जन्म तक,इस दौरान प्रेग्नेंट स्त्री की सेहत का खास रूप से ख्याल रखा जाता है।

स्वस्थ शिशु
स्वस्थ शिशु

इसलिए आज हम आपको इसी शास्त्र के अनुसार कुछ वास्तु उपाय बता रहें है जो शिशु और उसके माँ की सेहत के लिए शुभ साबित होगा तथा इससे शिशु गुणवान होगा। तो आइये जानते है:

मोर पंख

श्री कृष्ण की सबसे प्रिय वस्तु है मोर पंख। वास्तु के अनुसार मोर पंख को घर के मंदिर या गर्भवती स्त्री के कमरे में रखना माँ और उसके होने वाले शिशु के लिए शुभ माना जाता है।

 वास्तु देव की मूर्ति

मोरपंख होता है शुभ
मोरपंख होता है शुभ

यदि कमरे का वास्तु ठीक न हो तो ये माँ और होने वाले बच्चे दोनों के लिए परेशानी उत्पन्न करता है। इसलिए घर के वास्तु को ठीक करने के लिए कमरे में वास्तु देव की मूर्ति स्थापित करें। ऐसा करने से घर का वास्तु भले ही ख़राब हो उसका असर न तो माँ और नहीं उसके होने वाले संतान पर पड़ता है।

श्री कृष्ण की माँ यशोदा के साथ तस्वीर

गर्भवती स्त्री के कमरे में श्री कृष्ण की तस्वीर लगाना चाहिए जिसमें वो बाल स्वरुप में हो और माँ यशोदा के साथ हो। तस्वीर लगाते वक्त ध्यान रखें की जब गर्भवती महिला सुबह उठे तो उठते ही उनकी नजर सर्वप्रथम तस्वीर पर हो।

माँ यशोदा के साथ कान्हा
माँ यशोदा के साथ कान्हा

पीले चावल

पीले चावल को शुभ संकेत माना गया है। इसी कारण से विवाह पत्रिका जब किसी को दी जाती है तो पीले चावल भी दिए जाते हैं। यदि पीले चावल को गर्भवती महिला के कमरे में रखा जाये तो इससे माँ और बच्चे दोनों पर होने वाली नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव ख़त्म होता है।

पीले चावल
पीले चावल

तांबे की कोई वस्तु

वास्तु में तांबे को शुभ माना जाता है क्योंकि तांबा बुरी नजर और नकारात्मक ऊर्जा को ख़त्म कर सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करता है। इसी कारण गर्भवती महिला के कमरे में तांबे से बनी वास्तु रखना चाहिए। इससे उस कमरे में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

मुस्कुराते और हँसते हुए स्वस्थ बच्चे की तस्वीर

कमरे में हँसते हुए और मुस्कुराते हुए बच्चों की तस्वीर लगाना शुभ माना जाता है। ऐसा करने से माना जाता है की बच्चे शांत और हंसमुख स्वाभाव के होते हैं।

सफेद रंग की तस्वीर

मुस्कुराता हुआ बच्चा
मुस्कुराता हुआ बच्चा

सफेद रंग शांति और अच्छी सेहत का प्रतिक माना जाता है। इसीलिए इस रंग की कोई तस्वीर या शो-पीस कमरे में रखना शुभ माना जाता है।

महकते हुए रहें कमरा

कमरे में कुछ अच्छी खुशबू का छिड़काव करें या अगरबत्ती लगा दें जिसका धुआँ न हो ऐसा करने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है ।

4 Comments