गणेश चतुर्थी : जानिए गणेश चतुर्थी की स्थापना मुहरत और शुभ संयोग !!!

गणेश चतुर्थी का त्योहार 22 अगस्त 2020 को मनाया जाएगा । इस दिन भगवान गणेश की स्थापना की जाती है तथा अनंत चतुर्दशी के दिन उनका विसर्जन कर देते हैं। हर वर्ष गणेश चतुर्थी का त्योहार बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है परंतु इस वर्ष कोरोना वाइरस संक्रमण के चलते सार्वजनिक कार्यक्रम नही होंगे। लेकिन इस बार गणेश चतुर्थी के दिन एक नहीं बल्कि कई ऐसे शुभ संयोग बन रहे हैं , जिसमें आप यदि गणेश जी की स्थापना एवं पूजा करें तो आप अपनी पूजा का कई गुना लाभ प्राप्त कर सकते हैं । आइए चलिए जानते हैं गणेश चतुर्थी के शुभ संयोग।

गणेश चतु्र्थी शुभ संयोग :
गणेश चतुर्थी के दिन गणेश जी को बड़े ही धूमधाम से अपने घर लाकर उनकी स्थापना की जाती है एवं उनकी पूजा – अर्चना की जाती है। लेकिन इस बार कई ऐसे शुभ संयोग बन रहे हैं , जिनमें आप गणेश जी की पूजा करके अपने जीवन की सभी परेशानियों तथा कष्टों से मुक्ति पा सकते हैं।

गणेश चतुर्थी शुभ मूहर्त :

इस बार पंचांग के मुताबिक गणेश जी की स्थापना और पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 11 बजकर 6 मिनट से दोपहर 1 बजकर 42 मिनट तक रहेगा।वहीं इस दिन सुबह 10 बजकर 22 मिनट के बाद शुभ योग बन रहा है।
गणेश चतुर्थी के दिन ग्रह स्थिति क्या रहेगी :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप के अनुसार  गणेश चतुर्थी के दिन  चंद्रमा कन्या राशि एवं चित्रा नक्षत्र में रहेगा। वहीं सूरज अपनी स्वंय की राशि सिंह में, बुध भी सूर्य के साथ ही उन्हीं की राशि में रहेगे, मंगल भीअपनी स्वंय की राशि मेष में,शुक्र मिथुन राशि में राहु के साथ रहेंगे,गुरु और केतु धनु राशि में एवं शनि अपनी स्वंय की राशि मकर में रहेंगे। इस दिन ज्यादातर ग्रह अपनी राशि में ही रहेंगे। जिसकी वजह से आपको पूजा का कई गुना लाभ प्राप्त हो सकता है।