भारत का एकमात्र ऐसा चमत्कारिक मंदिर जहां लकवे का इलाज़ सिर्फ 7 दिन में विज्ञान भी नतमस्तक !!!

आज आप को बता रहे है एक चमत्कारिक मंदिर जो राजस्थान में है की धरा पर अनेक ऐसी चमत्कारी जगह है जिनके आगे विज्ञान भी नतमस्तक है। आप को ये भी बता दे की आस्था में विश्वास रखने वाले के लिए एक ऐसा ही उदाहरण नागौर से 40 किलोमीटर दूर स्थित गांव बुटाटी में देखने को मिलता है।वैसे तो लोगों का मानना है कि यहां चतुरदास जी महाराज के मंदिर में लकवे से पीड़ित मरीज सिर्फ 7 दिन हो जाता है बिल्कुल स्वस्थ। राजस्थान के नागौर जिले के कुचेरा गांव में एक ऐसा प्रसिद्ध मंदिर हैं। जहां पर लोगों मनना है कि अगर कोई लकवाग्रस्त मरीज यहां दर्शन करने आता है तो वह आता तो दूसरों के सहारे पर है लेकिन वो मरीज जाता अपने सहारे से।

 चतुरदास जी महाराज
चतुरदास जी महाराज

परिक्रमा और हवन कुण्ड की भभूति ही है दवा :

इस मंदिर में बीमारी का इलाज ना तो कोई पंडित करता है ना ही कोई वैद या हकिम | बस यहा आपको 7 दिन के लिए मरीज के साथ आना होता है और 7 दिनों तक मंदिर की परिक्रमा लगानी होती है | उसके बाद हवन कुंड की भभूति लगाये | धीरे धीरे लकवे की बीमारी दूर होने लगती है , हाथ पैर हिलने लगते है, जो लकवे के कारण बोल नही सकते वो भी धीरे धीरे बोलना शुरू कर देते है |

 चतुरदास जी महाराज मंदिर

4 Comments