अगर चाहते है काम धंधे मे हमेशा बनी रहे बरकत तो एक बार अवश्य अपनाये यह उपाय !! निश्चित ही मिलेगा परिणाम!!

अगर चाहते है काम धंधे मे हमेशा बनी रहे बरकत तो एक बार अवश्य अपनाये यह उपाय !!

बरकत वह शुभ स्थिति जिसमें कोई चीज या चीजें इस मात्रा में उपलब्ध हों कि उनसे आवश्यकताओं की पूर्ति होने के बाद भी वह बची रहे अर्थात अन्न इतना हो कि घर के सदस्यों सहित अतिथि आए तो वह भी खा ले।धन इतना हो कि आवश्यकताओं की पूर्ति के बावजूद वह बचा रहे।आओ हम जानते हैं कि बरकत बनी रहने के ऐसे कौन से अचूक उपाय हैं जिनको करने से आपके घर और आपकी जेब की बरकत बनी रहे।भरपूर रहे मां लक्ष्मी और अन्नपूर्णा की कृपा।

1. प्रकृति का यह नियम है कि आप जितना दान देते हैं वह उसे दोगुना करके लौटा देती है।यदि आप धन या अन्न को पकड़कर रखेंगे तो वह छूटता जाएगा।दान में सबसे बड़ा दान है अन्नदान।

2.आप गोमती चक्र के प्रयोग से व्यापार में उन्नति के लिए अचूक टोटका कर सकते हैं। इसके लिए विषम मात्रा में गोमती चक्र लेकर ( 3,5,7 आदि) उन्हें चांदी के किसी तार में पीरों दें। इसके बाद इसके किसी पारदर्शी थैली लेकर उसमे डाल दें। आप इसे किसी साफ़ कपड़े में भी लपेटकर रख सकते हैं।इन गोमती चक्रों को अपने जेब डालकर रखें। ये व्यापार व कारोबार में वृद्धि के अंतर्गत बहुत ही असरदार टोटका है।इस टोटके का प्रयोग आपको चारो तरफ़ से सफलता दिलाएगा।इससे आपकी धन संबंधी सभी मुश्किलें हल होंगी|इस प्रयोग को करते समय ये ध्यान रखें कि इस दौरान आप मांस का सेवन, मदिरा पान, स्त्री-प्रसंग आदि से दूर रहें।इस प्रयोग के दौरान शमशान में जाना भी वर्जित है| जब भी आप घर से दुकान या ऑफिस जाएँ आपने इष्टदेव को ज़रूर याद करके जाएँ. ये छोटा या उपाय आपके रास्ते की सारी मुश्किलों को दूर कर देगा|

3. आप नीम्बू और हरी मिर्च के प्रयोग से भी व्यापार व कारोबार में वृद्धि के उपाय कर सकते हैं. इसके लिए 7 हरी मिर्च और 7 नीम्बू लेकर माला बनायें गौर उसे दुकान में वहां पर टांगे जहाँ ग्राहक की निगाह उस पर पड़े. ये बहुत ही आसान सा उपाय है इसके आपको काफी अच्छे परिणाम मिलेंगे|

4. शनिवार के दिन पीपल का पत्ता तोड़ें और धुप आदि बताकर दुकान के अपने आसन के नीचे रख लें. ये प्रयोग बड़ा ही आसन है. इसका प्रयोग अगर आप लगातार बार करें. ऐसा प्रयोग करने पर आपके आसन के नीचे कुल सात पत्ते इकठ्ठे हो जायेंगे. इस पत्तों को किसी तालाब अथवा कुएं में प्रवाहित कर दें. ये प्रयोग करने पर आपकी दुकान चल पड़ेगी|

 

166 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.