माता के नवरात्रों में कीजिये यह 5 गुप्त काम – बन जायेंगे आपके अनोखे काम !!

नवरात्रि हिंदुओं का सबसे बड़ा त्यौहार माना जाता है पूरे भारत में साल में दो बार यह त्योहार मनाया जाता है यह त्योहार भारत के हर व्यक्ति द्वारा मनाया जाता है परंतु मनाने के तरीके अलग-अलग हो सकते हैं। देखा जाए तो प्रमुख तौर पर नवरात्रि दो बार साल में बनाई जाती है परंतु नवरात्रि 1 वर्ष में 4 बार आती है। अश्विन माह के शुक्लपक्ष मैं आने वाले नवरात्रों को शारदीय नवरात्र कहा जाता है या फिर दुर्गा पूजा के नाम से भी जाना जाता है यह नवरात्रि बहुत ही लोकप्रिय नवरात्रि होती है इन नवरात्रियों में युवतियों द्वारा गरबों का आयोजन भी किया जाता है बड़े ही हर्षोल्लास से नवरात्रि को मनाया जाता है।

1 यह बात है शायद ही कम लोग जानते होंगे कि नवरात्रि की नौ देवियों के नौ ध्यान मंत्र होते हैं यह आपको बड़ी आसानी से मिल सकते हैं बस आपको जिस दिन जिस माता की पूजा हो उनका ध्यान मंत्र 108 बार जप करना होता है ऐसा करने से व्यक्ति को विशेष लाभ की प्राप्ति होती है और यदि कोई व्यक्ति गुप्त रुप से इस मंत्र का जाप करता है तो उसे मनचाहा वरदान प्राप्त होता।

2 नवरात्रि के नौ दिन शाम के समय माता का पूजन किस तरीके से करना चाहिए अगर आप इस विधि से पूजन करेंगे तो आपको धन प्राप्ति होने की पूर्ण रूप से संभावना होती है इसलिए इस उपयोग को उनके द्वारा किया जाता है जिनको धन से संबंधी कोई समस्या होती है सबसे पहले आपको एक आसन के सामने 9 दिए जलाने हैं एक थाली में स्वास्तिक बनाना है और इसमें सभी पूजन सामग्री रखने और फिर पूजन करें इस प्रकार नवरात्रि के 9 दिनों तक शाम के समय माता की इसी तरह से पूजा करने से आपको अत्यधिक लाभ की प्राप्ति होगी।

3 अगर आपकी कोई खास मनोकामना है जो आपको माता से मंगवानी है तो नवरात्रि के 9 दिनों तक आप हर रोज एक ही का दिया तुलसी माता जी के सामने जरूर जलाएं बस ध्यान रहे इस बात का कि जब भी आप दिया जलाएं उस समय आधी रात हो रही हो अन्यथा आप को इस उपाय का फल नहीं मिलेगा और साथ ही ध्यान रखें कि यह उपाय आपको किसी को बिना बताए करना है।

4 नवरात्रि के दिनों में किसी भी जरूरतमंद को गुप्त दान करना अच्छा माना जाता है अगर आप लोगों की मदद करते हैं तो माता आप से काफी प्रसन्न होगी और आपको मनचाहा वरदान देगी।