30 सितम्बर शनिवार का दशहरा बस छोटा सा प्रयोग दिलाएगा हर जगह पक्की जीत !!

दशहरे का पर्व बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है जैसे ही नवरात्रि खत्म होती है अगले दिन दशहरे का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है यह हिंदू धर्म में बुराई पर अच्छाई की जीत का त्यौहार माना जाता है यह अश्विन मास की दशमी तिथि को मनाया जाता है। और इस बार यह दशहरा 30 सितंबर 2017 को है। 30 सितंबर को है दशहरा दोस्तों इस साल का दशहरा शनिवार को है दशहरा मतलब बहुत बड़ा शुभ मुहूर्त और उसमें दशहरा है। शनिवार को तो इसलिए यह एक बहुत ही बड़ा महायोग है।

दोस्तों यदि आप शनिवार के दिन कोई उपाय करते हैं तो वैसे भी वह ऊपर जल्दी लाभ देता है और उसके साथ ही आपको इस बार मिलता है।दशहरा और शनिवार इस बड़े भाइयों का हर एक आदमी ने हर एक व्यक्ति नहीं इसका लाभ उठाना चाहिए। दोस्तों हमारे शास्त्रों में बहुत सारे उपाय दिए गए हैं। उसमें से अधिकतर उपाय शनिवार को किए जाते हैं। और उसी में से एक उपाय है जो दशहरा शनिवार को किया जाता है। वह उपाय आज की इस वीडियो में मैं आपको बताने जा रहा हूं।

दोस्तों इस उपाय को करने के बाद आप दे दोगे कि आपकी परेशानियां खत्म हो रही है दोस्तों इस उपाय के करने से पैसों की तंगी नौकरी या घर में कोई प्लेस हो वास्तु दोष हो तो वह सभी नष्ट हो जाते हैं। वह बहुत ही महायोग है इसका लाभ अवश्य उठाए तो दोस्तों ज्यादा टाइम नहीं लगाते हुए हम आप को सीधा उपाय बताते हैं।

राक्षसराज रावण
राक्षसराज रावण

आपको एक लौंग देनी है दोस्तों लॉन्ग पूरी साबूत। होने चाहिए उसके ऊपर का फूल भी बना होना चाहिए दोस्तों जितने अच्छे लौंग आप लोगेे  उतना आप को लाभ मिलेगा। उसके बाद दोस्तों आपको सुना उनको अपने मुख्य दरवाजे के चौखट पर लगाकर आना है इससे आपके पूरे घर का स्पर्श कुछ लोगों को होगा उसके बाद आपको सब लौंग को अपने हाथ की मुट्ठी पर रखकर आपकी जो भी मनोकामना है वह बोलती है। अपने इष्ट देव को आपको स्मरण करना है।

और उसके बाद जय माता दी जय माता दी ऐसा बोलते हुए ऐसा जाप करते हुए अपने घर की छत पर आपको जाना है। छत पर जाने के बाद उस लौंग को अपने हाथ में रखकर सारी मनोकामनाएं तीन बार बोलो और दक्षिण दिशा की ओर अपना मुंह करके आंखें बंद कर रखी थी। इस लौंग को फेंक दें और दोस्तों उसके बाद बिना उस लोगों को देखें चुपचाप तुरंत नीचे अपने घर में आ जाए दोस्तों आपको यह ध्यान रखना है कि आपको उस लौंग को खींचते वक्त देखना नहीं है।

रावण बहुत तपस्वी और ज्ञानी था
रावण बहुत तपस्वी और ज्ञानी था

उसके बाद दोस्तों आपको सफाई के बारे में किसी से बताना नहीं है दीदी आपको नीचे आना है। दोस्तों इस एकमात्र उपाय से आपके घर में जितने भी संकट होंगे आपके घर में जितने भी लोग इससे प्रभावित होंगे घर में नकारात्मक सकती हो गई तो यह सारी चीजें इस एक उपाय से इस एक लौंग से दशहरे की रात नष्ट हो जाएंगे जैसे राम ने रावण का वध किया था वैसे ही आपकी सारी परेशानी का वध हो जाएगा।